हाल चुनावी साल का विधायक के एक साल का : विपिन परमार; विधायक, सुलाह

Mar 18th, 2019 12:08 am

हिमाचल में जयराम सरकार करीब सवा साल पूरा कर चुकी है और देश में लोकसभा चुनाव का ऐलान हो चुका है। विधानसभा क्षेत्र में जनप्रतिनिधि द्वारा करवाए गए विकास कार्य चुनावी नतीजों को प्रभावित करते हैं। ऐसे में थुरल विधानसभा क्षेत्र में क्या विकास हुआ है और यह हलका कहां पिछड़ा, बता रहे हैं… अमन सूद

विपिन परमार, विधायक, विधानसभा क्षेत्र सुलाह

96197

कुल मतदाता

130

पोलिंग बूथ

हिमाचल प्रदेश के सुलाह विधानसभा क्षेत्र का तीसरी बार प्रतिनिधित्व कर रहे प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री विपिन सिंह परमार ने विधानसभा क्षेत्र के संतुलित विकास को अपना मूल एजेंडा बनाते हुए विकास कार्यों को आगे बढ़ाया है। स्वास्थ्य विभाग की कल्याणकारी योजनाओं को भी आम जनता तक पहुंचाया जा रहा है, जिससे क्षेत्र की जनता लाभान्वित हो रही है। विपिन सिंह परमार ने स्वास्थ्य मंत्री का कार्यभार संभालने के उपरांत क्षेत्र में अब तक 200 करोड़ से अधिक के विकास कार्यों को स्वीकृत करवा कर सुलाह के विकास को नई दिशा प्रदान की है। क्षेत्र के अस्पतालों में स्टाफ  की कमी को दूर किया गया और अस्पतालों का दर्जा बढ़ाया गया, साथ ही नए अस्पताल खोलने की घोषणाएं भी की हैं।  इस सब के बावजूद विपक्षी पार्टी कांग्रेस भाजपा सरकार के कार्य से खुश नहीं हैं। कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा कांग्रेस के कामों का श्रेय ले रही है। कोरी घोषणाएं कर जनता को गुमराह किया जा रहा है।

जनमंच में निपटाई 381 समस्याएं

प्रदेश की जनता की समस्याओं को घर-द्वार निपटाने के लिए सरकार ने जनमंच सरीखी पहल की है। इसके तहत प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में जनमंच का आयोजन किया जा रहा है। इसी के तहत सुलाह विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत नौरा में 27 जनवरी को जनमंच का आयोजन किया गया। इस दौरान में  381 शिकायतें व मामले सरकार के समक्ष आए। इनमें से सभ  का निपटारा भी कर दिया गया।  जनमंच के दौरान 17 अपंगता प्रमाण पत्र और 27 इंतकाल मौके पर ही चढ़ाए गए।

सुलाह को एजुकेशन हब बनाएंगे परमार

सुलाह विधानसभा क्षेत्र का समग्र एवं संतुलित विकास ही स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार की प्राथमिकता है। इसके अलावा  क्षेत्र में स्वास्थ्य सड़क, शिक्षा, पेयजल, सिंचाई व विद्युत जैसी मूलभूत सुविधाओं को दूर करना भी उनकी प्राथमिकता में है। स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने बताया कि जनता को घर-द्वार मूलभूत स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करवाना  मुख्य प्राथमिकता है, जिसके लिए विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में जनता को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करवाकर राहत दिलवाई जाएगी, ताकि जनता को  बीमारी की स्थिति में  दूरदराज के शहरों का रुख न करना पड़े । इन संस्थानों में दवाइयों की उपलब्धता सुनिश्चित करवाई जाएगी ।  इसके साथ ही युवाओं को सरकारी-निजी क्षेत्र में रोजगार के साथ-साथ स्वरोजगार दिलवाने के प्रयास किए जाएंगे ।  क्षेत्र के विभिन्न धार्मिक स्थलों को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के प्रयास भी  किए जाएंगे। जनता को बेहतर परिवहन सुविधा ग्रामीण स्तर तक मुहैया करवाई जाएगी। सुलाह विधानसभा शिक्षा का एजुकेशन हब के रूप में विकसित करने का भी प्रयास किया जाएगा। इसके अतिरिक्त उच्च शिक्षण संस्थानों तथा व्यावसायिक शिक्षण संस्थानों का भी सुदृढ़ीकरण  किया जाएगा। श्री परमार ने कहा कि सड़क सुविधा से वंचित क्षेत्रों को सड़क से जोड़ा जाएगा । पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने के उद्देश्य से पेयजल योजनाओं का निर्माण तथा पुरानी पुरानी पेयजल का सुधारीकरण व संवर्द्धन कार्य आने वाले चार वर्षों में करवाया जाएगा तथा ट्यूबवेल तथा हैंडपंप भी आवश्यकता व उपलब्धता के अनुसार क्षेत्र में स्थापित करवाए जाएंगे । उन्होंने कहा कि किसानों की भूमि को सिंचित करवाने के लिए विभिन्न सिंचाई योजनाओं को भी शुरू किया जाएगा, ताकि किसानों को फायदा मिल सके।

विधायक के प्रयास से मिली सौगात

* धीरा के होली मेलों को जिला स्तरीय दर्जा

  • भवारना में लोक निर्माण विभाग का मंडल कार्यालय खोला गया

*पुलिस थाना भवारना में 15 नए पदों का सृजन किया गया

परौर-धीरा-पुढ़बा सड़क बनी एमडीआर

परौर-धीरा-पुढ़बा सड़क को एमडीआर (मेजर डिस्ट्रिक रोड) बनाने संबंधी अधिसूचना  प्रदेश सरकार द्वारा जारी की गई है। इस सड़क के लिए सरकार ने 17 करोड़ के बजट का प्रावधान भी किया है।

भ्रांता-मैंझा में आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी

अब तक के कार्यकाल के दौरान विपिन परमार ने बेहतर स्वास्थ्य सुविधा लोगों को मुहैया करवाने पर खासा जोर दिया है। इसके तहत विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत भ्रांता व मैंझा में आयुर्वेदिक औषधालय खोले गए, जबकि हलदरा कोना में क्षार सूत्र केंद्र खोला गया है।

सुलाह में खुला पशु चिकित्सालय

किसानों और पशुपालकों की दिक्कतों को समझते हुए स्थानीय विधायक एवं स्वास्थ्य मंत्री ने ग्राम पंचायत सुलाह में पशु चिकित्सालय खोला है। बता दें कि इस पशु चिकित्सालय से क्षेत्र की आधा दर्जन से अधिक पंचायतों के पशुपालकों को लाभ मिलेगा।

रझूं में खुलेगी आईटीआई

युवाओं को तकनीकी तौर पर दक्ष बनाने पर भी विपिन परमार ने खास ध्यान दिया है। युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए चंगर क्षेत्र के रझूं  में सरकार द्वारा मॉडर्न आईटीआई खोलने का निर्णय लिया गया है।

धीरा को 108 एंबुलेंस की सौगात

स्वास्थ्य मंत्री ने आपातकाल के दौरान मरीजों को तुरंत स्वास्थ्य सुविधा मुहैया करवाने के उदेश्य से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र धीरा को 108 की सौगात दी गई है। इसके अलावा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र धीरा में चल रही स्टाफ  की कमी को दूर किया गया है।

दो दर्जन से ज्यादा ग्रामीण बस रूट शुरू

विधानसभा क्षेत्र के लोगों के लिए स्वास्थ्य मंत्री ने हर दिशा में सुविधा देने की पहल की है। इसी के तहत दिल्ली, शिमला, परवाणू के लिए करीब आधा दर्जन लंबी दूरी की बस सेवाएं शुरू की गई, जबकि ग्रामीण क्षेत्र में दो दर्जन से अधिक नई बसें शुरू की गई हैं, ताकि लोगों को आने-जाने में किसी प्रकार की दिक्कत का सामना न करना पड़े।

परौर में खुलेगा अटल आदर्श आवासीय विद्यालय

स्वास्थ्य मंत्री ने शिक्षा के क्षेत्र में बेहतरीन कार्य करने पर जोर दिया है। शिक्षण संस्थानों में ढांचागत सुविधाएं मुहैया करवाने के साथ-साथ स्टाफ की कमी को भी पूरा किया गया है। इसके तहत अब परौर में  अटल  आदर्श आवासीय विद्यालय की स्थापना की जाएगी।

सुलाह में खुलेगा फार्मेसी कालेज

सुलाह विधानसभा क्षेत्र में फार्मेंसी कालेज खुलेगा। इसकी घोषणा मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा की जा चुकी है। इसके अतिरिक्त उपतहसील धीरा को पूर्ण तहसील का दर्जा, सुलाह में आईपीएच का सब डिवीजन, उपतहसील कार्यालय, पीएचसी सुलाह व बच्छवाई को सीएचसी का दर्जा की भी घोषणा की जा चुकी है।

थुरल की आठ पंचायतें भेडू महादेव ब्लॉक में

पुनर्सीमांकन के उपरांत सुलाह विधानसभा क्षेत्र में सम्मिलित हुई थुरल  विधानसभा क्षेत्र की आठ पचायतों को विकास खंड लंबगाव से हटाकर विकास खंड  भेडू महादेव से जोड़ा गया है। साथ ही  पुलिस चौकी थुरल को पुलिस थाना लंबागाव से हटाकर पुलिस थाना भवारना से जोड़ा गया।  इसके अतरिक्त थुरल अस्पताल को सिविल अस्पताल का दर्जा प्रदान करके 100 बिस्तरों का बनाया गया तथा स्टाफ  की कमी को दूर किया गया।  इसके अलावा भाजपा सरकार बनने के बाद उपतहसील थुरल को पूर्ण तहसील का दर्जा प्रदान किया गया । वहीं, स्वास्थ्य मंत्री के प्रयासों से राजकीय महाविद्यालय थुरल में अगले सत्र से बीबीए,  बीसीए की कक्षाएं शुरू करने की अधिसूचना जारी की गई।

कांग्रेस की उपलब्धियां भुना रही भाजपा

प्रदेश सरकार की मौजूदा भाजपा सरकार बेशक क्षेत्र में अथाह विकास के दावे कर रही हो, लेकिन कांग्रेस इसे सिर्फ झूठ का पुलिंदा ही बता रही है। सुलाह विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक जगजीवन पाल का कहना है कि वर्तमान प्रदेश  सरकार का अब तक का कार्यकाल पूरी तरह निराशाजनक रहा है। भाजपा द्वारा विधानसभा क्षेत्र में केवल घोषणाएं हैं की गई हैं। इसके अलावा सुलाह विधानसभा क्षेत्र में भाजपा की एक वर्ष के शासनकाल में कोई विशेष उपलब्धि नहीं रही है। भाजपा द्वारा विधानसभा क्षेत्र में पूर्व कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में शुरू की गई योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास कर लोगों को गुमराह किया जा रहा है। विधानसभा क्षेत्र में कोेई नई योजना शुरू नहीं की गई है। स्वास्थ्य संस्थानों में दिक्कतों का अंबार है। भाजपा सरकार की अभी तक कोई विशेष उपलब्धि नहीं है। धरातल पर विकास नाम की कोई चीज नहीं हुई है। सिर्फ घोषणाएं कर लोगों को गुमराह किया जा रहा है, यह मात्र चुनावी स्टंट है।

मोल खड्ड पर बनेगा ब्रिज

सुलाह विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत केंद्रीय सड़क फंड से हमीरपुर सुजानपुर-थुरल-मारंडा सड़क पर पखी नामक स्थान पर मोल खड्ड पर 1257 लाख व चूला नामक स्थान पर स्काड के ऊपर दो करोड़ 16 लाख दो पुलों के निर्माण पर खर्च किए जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त राजकीय महाविद्यालय थुरल के भवन निर्माण पर पांच करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। वहीं, राजकीय महाविद्यालय नौरा में दो करोड़ 30 लाख से विज्ञान भवन का निर्माण करवाया जाएगा। गौर हो कि विधानसभा क्षेत्र थुरल में 1.51 करोड़   से कई सड़कें निर्माणाधीन हैं। इसके अलावा क्षेत्र के किसानों की सिंचाई व्यवस्था हेतु अनेक कूहलों का निर्माण करवाया जा रहा है, जिसके तहत कृपाल चंद कूहल के संवर्द्धन हेतु करीब छह करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत करवाई गई है, जबकि कथूल कूहल के माध्यम से किसानों को सिंचाई हेतु पानी की व्यवस्था किए जाने के लिए साढ़े चार करोड़ की राशि से पाइप डालने का प्रावधान किया गया है।

14 महीनों में हर फील्ड में अथाह विकास

14 महीने के शासनकाल में प्रदेश सरकार द्वारा सुलाह विधानसभा क्षेत्र में विकास के नए आयाम स्थापित किए गए हैं। इस दौरान क्षेत्र की 71 पंचायतों में  करोड़ों के विकास कार्यों को स्वीकृति मिली है। सड़क, स्वास्थ्य, शिक्षा, पेयजल, बिजली जैसी बुनियादी सुविधाओं के अतिरिक्त अन्य सुविधाएं भी जनता को मुहैया करवाई जा रही हैं।

स्वास्थ्य मंत्री के प्रयासों से मतदाताओं के आधार पर प्रदेश के सबसे बड़े विधानसभा क्षेत्र में स्वास्थ्य संस्थानों में स्टाफ  की कमी को दूर किया गया। स्कूल भवन के निर्माण हेतु बजट का प्रावधान किया गया। बिजली की कम वोल्टेज की समस्या से प्रभावित गावों में नए ट्रांसफार्मर स्थापित किए गए।  छोटे से कार्यकाल के दौरान ही उन्होंने सिंचाई के लिए अनेक कूहलों के जीर्णोंद्धार हेतु बजट मुहैया करवाया है। पेयजल समस्या के समाधान हेतु  अनेक पेयजल योजनाओं  की व्यवस्था की गई। पिछले एक वर्ष में 60 करोड़ से अधिक की पेयजल व सिंचाई योजनाएं स्वीकृत हुई। क्षेत्र में कई नए हैंडपंप लगाए गए।

इसके अलावा क्षेत्र में पुलों, सड़कों, भवनों के निर्माण पर 80 करोड़ से अधिक धनराशि व्यय की जा रही है। सवा साल के दौरान लोक निर्माण विभाग का मंडल कार्यालय भवारना में खोला गया, सिविल अस्पताल भवारना में 24 करोड़ से बनने वाले पांच मंजिला भवन का शिलान्यास हुआ। दस पंचायतों की पेयजल सुविधा हेतु  32 करोड़ की धनराशि स्वीकृत की गई। नागनी में  दस पंचायतों के 27 गांवों की 35000  जनसंख्या की विद्युत सुविधा हेतु  पांच करोड़ से 33केवी सब-स्टेशन का निर्माण होगा। पंचायतों में विकास कार्यों को गति प्रदान की गई है । प्रदेश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार द्वारा सुलाह विधानसभा क्षेत्र में विकास के नए आयाम स्थापित किए जा रहे हैं।

Himachal List

Free Classified Advertisements

Property

Land
Buy Land | Sell Land

House | Apartment
Buy / Rent | Sell / Rent

Shop | Office | Factory
Buy / Rent | Sell / Rent

Vehicles

Car | SUV
Buy | Sell

Truck | Bus
Buy | Sell

Two Wheeler
Buy | Sell

Polls

क्या हिमाचल में सियासी भ्रष्टाचार बढ़ रहा है?

View Results

Loading ... Loading ...


Miss Himachal Himachal ki Awaz Dance Himachal Dance Mr. Himachal Epaper Mrs. Himachal Competition Review Astha Divya Himachal TV Divya Himachal Miss Himachal Himachal Ki Awaz