अनुभव के साथ युवा जोश पर भी दांव

वर्ल्ड कप को चुनी गई टीम इंडिया की औसत उम्र 30 साल, 100 प्लस वनडे खेलने वाले छह खिलाड़ी

मुंबई –भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने सोमवार को वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया का ऐलान किया। पिछले तीन वर्ल्ड कप से तुलना करें तो चयनकर्ताओं ने इस बार सबसे उम्रदराज टीम चुनी है। 2011 में चुनी गई टीम इंडिया की औसत उम्र 28.65 साल थी। इस बार चुनी गई टीम की औसत आयु 29.92 साल है। 2015 में चुनी गई टीम की औसत आयु 27.36 साल ही थी। इस बार की टीम के सबसे उम्रदराज खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी हैं। 37 साल 282 दिन के धोनी को 341 वनडे खेलने का अनुभव है। हालांकि, रन बनाने के मामले में 227 वनडे खेलने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली टॉप पर हैं। कोहली के 10843 और धोनी के 10500 रन हैं। कोहली की उम्र 30 साल 161 दिन है। धोनी, विराट के अलावा रोहित शर्मा, शिखर धवन, दिनेश कार्तिक, रविंद्र जडेजा और केदार जाधव भी 30 साल से ज्यादा के हैं। रोहित, धवन, जडेजा, केदार जाधव और भुवनेश्वर कुमार को भी 100 से ज्यादा वनडे खेलने का अनुभव है। रोहित के 8000 और 5000 से ज्यादा वनडे रन हैं। टीम में सबसे युवा चेहरा कुलदीप यादव हैं। उनकी उम्र 24 साल 122 दिन हैं। बाएं हाथ का यह चाइनामैन गेंदबाज अब तक 44 वनडे में 87 विकेट अपने नाम कर चुका है। हालांकि, अनुभव के मामले में विजय शंकर सबसे निचले पायदान पर हैं। 28 साल 79 दिन के शंकर ने अब तक नौ वनडे ही खेले हैं। टीम में चुने गए शंकर और लोकेश राहुल ही ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनके पास 40 से कम वनडे खेलने का अनुभव है। राहुल ने भी अब तक सिर्फ 14 वनडे ही खेले हैं। इसमें उन्होंने 34.3 की औसत से 343 रन बनाए हैं। इसमें उनका एक शतक भी शामिल है। चयनकर्ताओं ने उनके हालिया प्रदर्शन को देखते हुए दोनों पर भरोसा जताया है। 2015 की टीम में भी सबसे उम्रदराज धोनी थे। धोनी तब 33 साल 216 दिन के थे। उस टीम में सबसे युवा चेहरा अक्षर पटेल थे। अक्षर जब वर्ल्ड कप टीम के लिए चुने गए थे, तब उनकी उम्र 21 साल 19 दिन थी। हालांकि, 30 साल 250 दिन के स्टुअर्ट बिन्नी सबसे कम अनुभवी थे। वे तब तक केवल नौ मैच ही खेल पाए थे। उस टीम के आठ खिलाडि़यों की उम्र 27 साल से ज्यादा थी।

वर्ल्ड कप 2011 में सचिन थे सबसे उम्रदराज भारतीय

2011 की वर्ल्ड कप विजेता भारतीय टीम के सबसे उम्रदराज सदस्य सचिन तेंदुलकर थे। सचिन तब 37 साल 290 दिन के थे। उस टीम में सचिन के अलावा वीरेंद्र सहवाग, हरभजन सिंह, जहीर खान और आशीष नेहरा भी 30 साल से ज्यादा की उम्र थे। वहीं, पीयूष चावला सबसे युवा थे। उस समय चावला की उम्र 22 साल 46 दिन थी। तब विराट कोहली महज 49 दिन से यह रिकार्ड अपने नाम करने से चूक गए थे। कोहली तब 22 साल 95 दिन के थे। 24 साल 144 दिन वाले रविचंद्रन अश्विन सबसे कम अनुभवी थे।

 

You might also like