चुनाव नजदीक आते ही भाजपा को याद आए दलित, मंच ने जड़े आरोप

रामपुर बुशहर—भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के निरमंड में बुधवार को आयोजित हुए सम्मेलन को दलित शोषण मुक्ति मंच ने हास्यप्रद करार दिया है। मंच के निरमंड ब्लाक संयोजक देवकी नंद और सह संयोजक दुर्गा नंद ने कहा कि भाजपा ने वर्ष 2017 में भी विधानसभा चुनाव से पहले पूरे प्रदेश में ब्लॉक स्तर पर इस तरह के सम्मेलन करवाये थे लेकिन चुनाव के बाद अनुसूचित जाति के लोगों के ऊपर कई निंदनीय हमलें हुए। जिसमें सिरमौर मे जिन्दान की हत्या, नेरवा मे रजत की हत्या, बंजार में दलित युवक के साथ हुये मारपीट, कुल्लु के फाजल गांव में दलित महिला को सार्वजनिक शमशान घाट पर अंतिम दाह संस्कार ना कर देना कई ऐसी घटनायें शामिल है। उन्होंने कहा कि इस घटनाओं के दौरान ना तो प्रदेश में सत्तासीन भाजपा सरकार ने कोई कार्यवाही की और ना ही भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा पीढ़ीतों की सहायता के लिए आगे आया। देवकी नंद ने कहा कि इससे साफ जाहिर होता है कि निरमंड मे आयोजित हुआ सम्मेलन केवल आगामी लोकसभा चुनाव में अनुसूचित जाति लोगों के वोट बटोरने के लिए किया गया है। चुनावों के बीत जाने के बाद भाजपा सरकार मे दलितों की सुनवाई नही होगी। मंच ने कहा कि दलित शोषण मुक्ति मंच निरमण्ड ब्लॉक के गांव गांव जाकर भाजपा का दलित विरोधी चेहरा जनता के बीच लाएगी।

You might also like