जंगलों को आग से बचाएगी खाकी

हमीरपुर—फायर सीजन में जंगलों को आग से बचाने के लिए हमीरपुर पुलिस वन विभाग व दमकल विभाग का साथ देगी। सोशल मीडिया के माध्यम से पुलिस विभाग लोगों को जागरूक कर रहा है। वन विभाग, दमकल व पुलिस विभाग का नंबर भी जारी किया गया है। जारी किए गए नंबरों पर कॉल कर आगजनी की जानकारी दी जा सकती है। पुलिस विभाग ने इस बार जंगलों का आग से बचाने का बीड़ा उठाया है। सर्वे के अनुसार दस आगजनी की घटनाओं में से नौ के लिए जिम्मेदार इनसान है। सोशल मीडिया के माध्यम से पुलिस ने जागरूकता अभियान छेड़ा है। बता दें कि वर्ष 2018 में ग्रीष्मकालीन सत्र के दौरान तीन माह में आगजनी की घटनाओं में 52 लाख की वन संपदा राख हो गई थी। अप्रैल में 22 लाख 8400 हजार, मई में 25 लाख 42 हजार 700, जून मंे चार लाख 46 हजार 500 की वन संपदा आग की भेंट चढ़ी है। हमीरपुर के लगभग सभी जंगल जल गए थे। अप्रैल में आगजनी की 14, मई में 76 व जून में 11 घटनाएं हुई थीं। वन संपदा को राख होने से बचाने के लिए इस बार फोरेस्ट व फायर ब्रिगेड का साथ पुलिस दे रही है। पुलिस द्वारा बनाए गए सोशल मीडिया विज्ञापन का शीर्षक ‘डांट भी केयरलैस’ रखा गया है। इसमें आगजनी के कारणों का सबसे बड़ा जिम्मेदार इनसान को माना गया है। ऐसे में अब पुलिस लोगों को जागरूक करने में जुट गई है। पुलिस विभाग के लोगो सहित ये संदेश बनाया गया है। पुलिस की इस पहल की हर कोई तारीफ कर रहा है। पुलिस अधिकारियों ने सोशल मीडिया पर प्रचार-प्रसार शुरू कर दिया है। वहीं, पुलिस ने भी अपना ेहेल्पलाइन नंबर जारी किया है। लोगों से आग्रह किया गया है कि वनों में आग की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड को 01972-222533, वन विभाग 01972-223217 व पुलिस को 01972-224339 व 112 पर सूचित कर सकते हैं।

You might also like