धर्मशाला में लोगों को खूब पसंद आ रही किताबें

धर्मशाला  —राष्ट्रीय पुस्तक न्यास भारत के धर्मशाला पुस्तक मेले में एक ऐसी देशभक्ति की किताब है, जिनकी देशभक्ति की कविताओं के कारण आतंकवादियों ने लेखक को ही मार दिया था। पंजाब के अवतार सिंह पाश की संपूर्ण कविताएं वीरभूमि हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला के नेताजी सुभाष चंद्र पुलिस मैदान की शान बढ़ा रही हैं। उनकी किताब संपूर्ण कविताएं में देशभक्ति की बहुत सारी कविताएं उपलब्ध हैं, जिन्हें देश भर में सबसे अधिक बिक्री करने का भी पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। इसके अलावा भगत सिंह के संपूर्ण दस्तावेज की किताब भी लोगों को खूब पसंद आ रही है। पुलिस मैदान धर्मशाला में 27 अप्रैल से पांच मई तक चलने वाले एनबीटी के पुस्तक मेले में पुस्तकों का भंडार खुल गया है। पुस्तक मेले में बेस्ट सेलर बुक्स, हिंदी-अंग्रजी साहित्य और सभी प्रकार की पुस्तकें उपलब्ध हैं। पुस्तक मेले में साहित्य के अलावा बच्चों की भी काफी पुस्तकें उपलब्ध हैं, जिनमें 20 से 40 प्रतिशत तक छूट प्रदान कर रही है। मेले में रितेश बुक एजेंसी दिल्ली के स्टाल में सबसे मुश्किल से मिलने वाली किताबें भी उपलब्ध करवाई जा रही हैं। वहीं पूजा बुक्स सेंटर फरीदाबाद हरियाणा के बुक स्टाल में धर्म और फिलॉसिफी की समस्त किताबें उपलब्ध हैं। इसके अलावा मौजूदा समय के बेस्ट सेलिंग नॉबेल भी उपलब्ध हैं। वहीं आधार प्रकाशन प्राइवेट लिमिटेड के बुक स्टॉल में हिंदी साहित्य की जानी मानी पुस्तकें सबके लिए आकर्षण बनी हुई हैं। इसमें भगत सिंह के संपूर्ण दस्तावेज, अंधे घोड़े का दान, अवतार सिंह पाश की संपूर्ण कविताएं भी सबको आकर्षित कर रही हैं। वहीं अंग्रेजी के अनुवाद साहित्य शिमला के राजकुमार राकेश की गुस्से के अंगुर और चार्ली चैपलिन भी काफी आकर्षित कर रही हैं। साथ ही पुस्तक मेले में हिमाचली लेखकों में गौतम व्यथित, एसआर हरनोट, राज कुमार राकेश, गोलादार नेगी सहित दर्जनों लेखकों की पुस्तकें शोभा बढ़ा रही हैं। इसके अलावा मुकेश बुक्स स्टाल में अमीश त्रिपाठी की राम-सीता, नेलूहा और नागा काफी अधिक छाई हुई हैं। वहीं यशिका बुक स्टाल में सभी किस्म की किताबें मिल रही हैं। इसके अलवा साइंस विषय का सामान भी  मेले में सजाया गया है। सभी किताबों पर 20 से 50 प्रतिशत तक छूट प्रदान की जा रही है।

You might also like