प्रधानाचार्यों की सीधी भर्ती का विरोध

घुमारवीं—हिमाचल स्कूल प्रवक्ता संघ बिलासपुर की आम सभा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला छात्रा घुमारवीं में हुई। इसकी अध्यक्षता प्रदेशाध्यक्ष केसर सिंह ठाकुर ने की। आम सभा में जिला बिलासपुर के लगभग 60 के करीब प्रवक्ताओं ने भाग लिया। सभा प्रवक्ताओं की विभिन्न मांगों पर चर्चा की गई। इस बैठक में सरकार द्वारा मानी हुई मांगों की अधिसूचना जारी करवाने के लिए भविष्य कि रणनीति बनाने के लिए चर्चा हुई। मुख्य मांगों में पालमपुर अधिवेशन में माननीय मुख्यमंत्री द्वारा घोषित प्रवक्ता पदनाम बहाल करना, सभी स्कूलों में उपप्रधानाचार्य का पद सृजित करना, नॉन बीएड कामर्स प्रवक्ताओं का नियमतिकरण का क्रियान्वयन अतिशीघ्र करवाने की रणनीति बनाई गई, जनरल हाउस में 2010 के बाद नियुक्त प्रवक्ताओं को नियुक्ति की तिथि से वरिष्ठता व 16290 इनीशियल स्टार्ट दिया जाना, कम्प्यूटर विषय नौवीं से बारहवीं में पढ़ने वाले छात्रों को सरकारी नौकरी (जेओए व क्लर्क) की योग्यता के समकक्ष डिप्लोमा देना, कम्प्यूटर पढ़ने वाले छात्रों से ली जा रही फीस बंद करवाना या बाकी विषय की जो फीस है, उसके बराबर कम्प्यूटर साइंस विषय की फीस करवाना, राज्य कार्यकारिणी व जिला कार्यकारिणी ने जरनल हाउस चर्चा हुए सभी मुद्दों को सरकार के पटल तक लेकर हल करवाने पर चर्चा की गई। राज्य प्रधान ने आश्वासन दिया कि लोकसभा के चुनावों के बाद पीजीटी से लेक्चरर पदनाम की अधिसूचना जारी करवाने के लिए प्रयास किए जाएंगे। बैठक में सीधी भर्ती से प्रधानाचार्यों की नियुक्ति करने का पुरजोर विरोध किया गया। इस मौके पर राज्य महासचिव संजीव ठाकुर, हमीरपुर के प्रधान तेज सिंह, बिलासपुर के प्रधान नरेश ठाकुर, पैटर्न सतीश शर्मा, वरिष्ठ उपप्रधान हेम राज, भूपेंद्र ठाकुर, जगदीश कौंडल, देशराज, रवि कांत, सुरेंद्र, पवन शर्मा, मदन लाल, सुरेश, राजेंद्र चंदेल, मनोज ठाकुर, सुशील, महेंद्र, शांति स्वरूप, यशपाल, राजेश, नरेश गुप्ता, गजेंद्र धीमान, राजेंद्र व रमेश जस्वाल सहित अन्य मौजूद रहे।

You might also like