बरोटी पहुंचे आईपीएच के एसडीओ-जेई

डैहर—डैहर उपतहसील की ग्राम पंचायत बरोटी में अज्ञात शरारती तत्त्व द्वारा पेयजल भंडारण टैंक में गोबर मिलाए जाने के मामले में जांच शुरू हो गई है। शनिवार शाम को मौके पर बरोटी गांव में पेयजल टैंक पर आईपीएच विभाग सुंदरनगर के एसडीओ रजत शर्मा, आईपीएच अनुभाग डैहर के जेई दत्त राम व अन्य कर्मी पहुंचे। इस दौरान एसडीओ रजत शर्मा ने बरोटी गांव के ग्रामीणों के साथ टैंक में गोबर मिलाए जाने की घटना को लेकर बातचीत की। इस दौरान ग्रामीणों ने आईपीएच व पुलिस विभाग से टैंक में गोबर मिलने वाले शख्स के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई अमल में लाने की बात कही, ताकि भविष्य में कोई भी ऐसा करने की सोच भी न सके। आईपीएच विभाग के एसडीओ रजत शर्मा ने मौके पर ही टैंक में नया ताला भी लगवाया व वाटर गार्ड को टैंक की नियमित रूप से जांच करने के आदेश दिए। मौके पर पहुंचे डैहर पुलिस के कर्मियों ने भी ग्रामीणों व वाटर गार्ड के बयान कलमबद्ध कर टैंक में गोबर मिलाए जाने वाले शरारती तत्त्व का पता लगाने हेतु आगामी छानबीन शुरू कर दी है। टैंक में गोबर मिलाए जाने की शर्मनाक हरकत को लेकर पूरे क्षेत्र में चर्चाओं का मौहाल काफी गरमाया हुआ है और इसकी घोर निंदा की जा रही है। एसडीओ आईपीएच सुंदरनगर रजत शर्मा ने बताया कि बरोटी पेयजल टैंक में गोबर मिलाए जाने की घटना के बाद शनिवार को बरोटी गांव में मौका किया गया। ग्रामीणों व वाटर गार्ड से इस संदर्भ में बातचीत की गई और टैंक में नया ताला लगवाया गया है। वाटर गार्ड को भी नियमित रूप से टैंक की निगरानी व जांच करने के आदेश दिए गए हैं। उधर, पुलिस चौकी प्रभारी डैहर जगत राम ने बताया कि पुलिस द्वारा बरोटी गांव के ग्रामीणों व वाटर गार्ड के बयान कलमबद्ध करने के उपरांत गोबर मिलाने वाले व्यक्ति का पता लगाने हेतु छानबीन तेज कर दी है।

You might also like