वक्त के साथ चलने में यकीन रखती हैं माधुरी दीक्षित

 

वक्त के साथ चलने में यकीन रखती हैं माधुरी दीक्षित

 बॉलीवुड की धकधक गर्ल माधुरी दीक्षित का कहना है कि वह वक्त के साथ चलने में यकीन रखती हैं। माधुरी का मानना है कि लोगों को वक्त के साथ बदलना होगा। मैं वक्त के साथ चलती हूं। मैं फिल्म निर्माण करती हूं तो मुझे ऐसी फिल्म बनानी चाहिए जो यथार्थवादी हो और मुझे पता हो कि इसमें कुछ ऐसा हो जिसे लोग पसंद करेंगे।माधुरी का कहना है कि वह उम्र संबंधी रूढ़ियों पर विश्वास नहीं करती है और ऐसी भूमिकाओं का चुनाव करेंगी जिसमें उन्हें कुछ ‘अप्रत्याशित’ करने का मौका मिलेगा। माधुरी ने कहा,“मैं कभी इससे नहीं चिपकी कि अब मैं एक पत्नी हूं और दो बच्चों की मां हो गयी हूं, इसलिए मैं इस तरह की भूमिकाएं निभा सकती हूं। मैं पत्नी हूं और मां हूं, इसलिए मुझे इस तरह की भूमिकाएं नहीं निभानी चाहिए। मैं इस बात पर कतई यकीन नहीं करती हूं।”माधुरी ने कहा, “मैं कुछ अलग करने में विश्वास करती हूं जो घिसे पिटे तरीके को समाप्त करे. इसलिए मैं ‘डेढ़ इश्किया’, ‘गुलाब गैंग’, ‘बकेट लिस्ट’ और ‘टोटल धमाल’ कर सकी। इन फिल्मों ने मेरी अलग तरह की छवि बनायी। लोगों को आशा करनी चाहिए कि मैं स्क्रीन पर कुछ अप्रत्याशित करूंगी। 

 

You might also like