5889 लोगों ने जमा करवाए हथियार

बिलासपुर—लोकसभा चुनाव के चलते जिला के 96 फीसदी लोगों ने अपने लाइसेंसशुदा हथियार जमा करवा दिए हैं।  पुलिस विभाग के प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक जिला भर में कुल 6134 लोगों के पास लाइसेंसी हथियार हैं, जिनमें से 5889 लोगों ने अपना दायित्व पूरा किया है। हालांकि अभी भी जिला के 245 लोग ऐसे हैं जिन्होंने अपने हथियार जमा करवाने हंै। इनमें से कुछ लाइसेंसधारक दूसरे जिलों में हंै, तो कुछ राज्य से बाहर रह रहे हैं। इसके अलावा 21 हथियार बैंक सेक्टर को जारी किए गए हैं। बिलासपुर पुलिस ने इन लोगों से संपर्क साधकर इन्हें तुरंत अपने हथियार जमा करवाने को कहा है, वहीं थानों में लाइसेंस शुदा हथियार जमा नहीं करवाने वालों के खिलाफ  पुलिस चुनाव आयोग के नियमानुसार कार्रवाई करेगी। इस कार्रवाई से बचने के लिए पुलिस ने हथियार जमा करवाने में कोताही बरतने वाले सभी लोगों को आखिरी मौका दिया है कि जल्द ही लोगों ने हथियार संबंधित थानों में जमा न करवाए तो उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। थानों में हथियार जमा करवाने को लेकर पुलिस विभाग कई बार लोगों को सूचित कर चुका है, लेकिन बार-बार सूचित करने के उपरांत भी अभी तक जिला में 5889 लोगों ने अपने लाइसेंसशुदा हथियार थानों में जमा करवाए हैं। उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव की घोषणा होते ही देश में आदर्श चुनाव संहिता लग गई थी। इसके तहत पुलिस ने सभी लोगों को लाइसेंसशुदा हथियार जमा करवाने के निर्देश भी जारी किए थे, लेकिन अभी भी कई लोगों ने ही अपने हथियार जमा नहीं करवाए हैं। ऐसे में मियाद खत्म होने के बाद आने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस एक्शन लेने की तैयारी में जुट गई है। विभाग ने लिस्टिंग करना शुरू कर दिया है। हथियार समय पर नहीं जमा करने वालों पर नजर रखी जा रहा है। वहीं लोकनसभा चुनावों से लाइसेंसी हथियार जमा कराने की धीमी चाल पर पुलिस अधिकारियों के माथे पर बल पैदा कर दिया है। नजदीक आ रही लास्ट डेट से पहले तक सभी लोगों द्वारा अपने थाना क्षेत्र में हथियारों को जमा नहीं करवाया है। इसके चलते एसएसपी अशोक कुमार ने थाना प्रभारियों को भी जल्द हथियार एकत्रित करने के निर्देश दिए हैं। एसएसपी अशोक कुमार ने कहा कि बैंक व सिक्योरिटी कंपनीज में गार्ड को अगर हथियार की आवश्यकता होती है, तो उनके आग्रह के बाद कमेटी वापस करने पर विचार करेगी। इसके लिए जो भी प्रकिया है उसको पूरा करने के बाद बैंक इत्यादि को हथियार दिए जाएंगे अन्यथा नहीं। विभाग के अनुसार जिले में आदर्श आचार संहिता लगने के बाद करीब 96 फीसदी लोग अपने लाइसेंसशुदा हथियार संबंधित थानों में जमा करवा चुके हैं।

You might also like