80 फीसदी अटेंडेंस पर रोल नंबर

शिमला—राजधानी शिमला के आरकेएमवी, संजौली और कोटशेरा कालेज में नए सत्र से छात्रों को हाजिरी पूरी करने का दूसरा मौका नहीं दिया जाएगा। छात्रों को एक ही बारी में 80 प्रतिशत हाजिरी परीक्षाओं का शेड्यूल जारी होने से पहले पूरी करनी होगी। 80 प्रतिशत हाजिरी पूरी न करने वाले छात्रों को परीक्षाओं में नहीं बैठने दिया जाएगा। वहीं, कालेज से जाने वाली असेस्मेंट भी एचपीयू में नहीं भेजी जाएगी। कालेज प्रशासन ने साफ किया है कि अब नए सत्र से छात्रों के साथ सख्ती बरती जाएगी। ऐसे में कालेज के बहाने घरों से मस्ती करने वाले छात्रों को भी अब सावधान रहना होगा। अगर कक्षाएं बंक कीं तो ऐसे में छात्रों का साल भी बर्बाद हो सकता है। यही वजह है कि  कालेज प्रशासन ने अभी से ही छात्रों को हिदायत दे दी है। राजधानी के इन तीनों कालेजों से मिली जानकारी के अनुसार रूसा के तहत पढ़ने वाले लगभग 40 प्रतिशत ऐसे छात्र इस बार ऐसे थे, जिन्होंने अपनी हाजिरी 80 प्रतिशत एक साल में पूरी नहीं की। ऐसे छात्रों को कालेज प्रशासन ने एक्स्ट्रा क्लासेज लगाकर मौका दिया है। बताया जा रहा है कि इससे कालेज का भी समय बर्बाद होता है। वहीं, छात्रों की पढ़ाई भी प्रभावित होती है। रूसा के तहत कई छात्रों को यही पता नहीं होता है कि सिलेबस कहां तक पहंुचा है। रूसा के तहत पढ़ने वाले छात्रों की पढ़ाई पर बुरा प्रभाव न पड़े, इस वजह से भी इस बार कालेज ने यह सख्त कदम उठाया है। उल्लेखनीय है कि शिमला में आरकेएमवी, संजौली और कोटशेरा ऐसे कालेज हैं, जहां पर सबसे ज्यादा छात्रों की संख्या रहती है। ऐसे में परीक्षाओं के दौरान हाजिरी पूरी न होने की वजह से कालेज प्रशासन को परीक्षाएं शुरू होने से पहले औपचारिकताएं पूरी करने में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। बता दें कि एचपीयू और शिक्षा विभाग ने भी कालेज प्रशासन को बहुत पहले ये निर्देष जारी किए थे कि हाजिरी पूरी न करने वाले छात्र-छात्राओं पर सख्त कार्रवाई की जाए। छात्रों का साल बर्बाद न हो, इसके लिए कालेज प्रशासन आज तक अपने लेवल पर यह मौका छात्रों को अलग से देते थे। अब बताया जा रहा है कि कालेजों में सेशन शुरू होने के बाद नोटिस बोर्ड में इस बारे में अवगत करवा दिया जाएगा। कालेज प्रशासन नोटिस बोर्ड पर साल भर की गतिविधियों के बारे में छात्रों को जानकारी देंगे। इसके तहत छात्रों को बताया जाएगा कि साल भर कितने दिनों तक कक्षाएं लगाई जाएंगी। बताया जा रहा है कि कक्षाओं से पांच से ज्यादा दिनों तक गायब रहने पर कालेज प्रशासन अभिभावकों को अवगत करवाएंगे। गौर हो कि इन दिनों कालेज में रूसा की वार्षिक प्रणाली और सेमेस्टर सिस्टम के तहत फाइनल परीक्षाएं आयोजित हो रही हैं। जानकारी के अनुसार शिमला के कालेजों में 15 जून से दाखिले शुरू हो जाएंगे, वहीं पहली जुलाई से कक्षाएं भी शुरू हो जाएंगी।

You might also like