अगले पांच साल देश के लिए अहम

जीत के बाद पहली बार गुजरात पहुंचकर बोले मोदी, जीत पचाने की ताकत होनी चाहिए

अहमदाबाद –लोकसभा चुनाव में एक बार फिर प्रचंड बहुमत हासिल करने के बाद नरेंद्र मोदी रविवार को पहली बार अपने गृह राज्य गुजरात पहुंचे। अहमदाबाद में सरदार पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद खानपुर स्थित बीजेपी दफ्तर के बाहर रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने सबसे पहले सूरत हादसे पर शोक जताया। उन्होंने कहा कि कल से ही वह दुविधा में थे कि रविवार को वह गुजरात में पार्टी के कार्यक्रम में हिस्सा लें या न लें। एक तरफ कर्तव्य था तो एक तरफ करुणा। अग्निकांड में मारे गए युवाओं के परिजनों के प्रति संवेदना जाहिर करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा कि राज्य की सरकार यह सुनिश्चित करने का उपाय कर रही है कि इस तरह का हादसा फिर न हो। चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की बंपर जीत का जिक्र करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा कि छठे चरण के चुनाव के बाद मैंने कहा था कि हमारी 300 से ज्यादा सीटें आएंगी। जब मैंने ऐसा कहा तो लोगों ने मेरा मजाक उड़ाया, लेकिन नतीजे सबके सामने हैं। गुजरात में बीजेपी लगातार दूसरी बार सभी सीटें जीतीं। 2019 का चुनाव न बीजेपी लड़ी, न मोदी लड़ा, न कोई और नेता। यह चुनाव जनता लड़ी। जीत को पचाने की ताकत होनी चाहिए, अगले पांच साल देश के लिए बेहद अहम हैं। हमें अगले पांच सालों का इस्तेमाल आम आदमी के मुद्दों को हल करने के लिए करना है। हमें वैश्विक स्तर पर भारत की स्थिति सुधारनी है। आने वाले पांच साल जन भागीदारी और जन चेतना के होंगे। 1942 से 1947 वाली जनभागीदारी चाहिए।

 

 

 

You might also like