अगले माह शिफ्ट होगा नगर परिषद कार्यालय

नालागढ़—नगर परिषद का कार्यालय अब जून माह से आईएचएसडीपी कांप्लेक्स में चलेगा। परिषद द्वारा इस नए स्थल में रेनोवेशन का काम किया जा रहा है और यहां टाइलें आदि का काम किया जा रहा है और जल्द ही नए स्थल पर परिषद अपना कार्यालय चलाएगी। मौजूदा समय में नगर परिषद का कार्यालय परिषद के रेन बसेरे में चल रहा है, जिससे अब लोगों को भी रात्रि ठहराव के लिए इसकी सुविधा मुहैया होगी। रैहन बसेरे के न होने से लोगों को रात्रि ठहराव के लिए महंगे दामों पर होटलों व अन्य विकल्पों पर निर्भर होकर रहना पड़ता है, लेकिन रेन बसेरे में चल रहे परिषद के अपने कार्यालय को यहां से अन्यत्र स्थानांतरित किया जा रहा है। वर्ष 2008 में रेन बसेरे के बनने के बाद परिषद ने अपना कार्यालय यहां स्थानांतरित किया था और आज तक इसी रैहन बसेरे में यह कार्यालय चल रहा है, जिससे रेन बसेरे का लोगों को लाभ ही नहीं मिल पा रहा है। परिषद ने इसकी बीच वाली मंजिल में अपना कार्यालय चलाया हुआ है, जबकि उपरली मंजिल पर बने हाल को नीलामी आदि कार्यक्रमों के प्रयोग में लाया जाता है। लेकिन अब परिषद ने अपने कार्यालय को साथ लगते आईएचएसडीपी कांप्लेक्स में स्थानांतरित करने का निर्णय ले लिया है। जानकारी के अनुसार नालागढ़ में अब लोगों को रात्रि विश्राम के लिए रेन बसेरे की सुविधा मुहैया होगी। इसके लिए नगर परिषद रेन बसेरे में चल रहे मौजूदा परिषद कार्यालय को यहां से शिफ्ट करने जा रही है। रेन बसेरे के कार्यालय के रूप में प्रयोग में लाए जाने के कारण बाहर से आने वाले लोगों को इसका लाभ ही नहीं मिल पा रहा है। वर्ष 2008 में जब यह रेन बसेरा बनकर तैयार हुआ तो परिषद ने यहां अपना कार्यालय स्थानांतरित कर दिया और उपर वाली मंजिल को उद्योग विभाग को अपना कार्यालय चलाने के लिए दे दिया। पिछले कुछ सालों से उपर वाली मंजिल खाली है और इस हाल को नीलामी व अन्य कार्यक्रमों में इस्तेमाल किया जा रहा है। यहां तक कि उपमंडल प्रशासन ने नगर परिषद को इस रेन बसेरे को खाली करने संबंधी आदेश भी दिए थे। यहां तक कि शहर की प्राचीन धर्मशाला को भी अनसेफ घोषित किया जा चुका है और लोगों को रेन बसेरे के अभाव में दूरदराज क्षेत्रों से आने वाले लोगों को रात्रि बसेरे  के लिए निजी होटलों, लॉज व अन्य साधनों को अपनाने पर मजबूर होना पड़ रहा है। बता दें कि औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन में औद्योगिकरण के बाद जहां उद्योगों की स्थापना हुई है, वहीं हिमाचल के कोने-कोने सहित देशभर से लोग यहां काम की तलाश में आए है। ऐसे में बाहर से यहां आने वाले लोगों को रात्रि विश्राम के लिए रेन बसेरे की सुविधा का अभाव है, नजीतजन लोगों को रात्रि ठहराव के लिए भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है, लेकिन अब परिषद यहां से अपना कार्यालय अन्यत्र स्थानांतरित करके इसे रेन बसेरे के रूप में प्रयोग में लाने जा रही है। नगर परिषद अध्यक्ष नीरू शर्मा ने कहा कि आईएचएसडीपी कांप्लेक्स में चलने वाले परिषद कार्यालय के लिए टाइलों आदि का काम किया जा रहा है और आगामी माह से परिषद का कार्यालय इस नई जगह पर स्थानांतरित हो जाएगा।

You might also like