अगले साल आप को छोड़ देंगी अलका लांबा

नई दिल्ली -आम आदमी पार्टी (आप) की असंतुष्ट विधायक अलका लांबा ने अगले साल पार्टी छोड़ने का ऐलान किया है। चांदनी चौक से विधायक लांबा ने ट्वीट किया कि 2013 में आप के साथ शुरू हुआ मेरा सफर 2020 में समाप्त हो जाएगा। मेरी शुभकामनाएं पार्टी के समर्पित क्रांतिकारी जमीनी कार्यकर्ताओं के साथ हमेशा रहेंगी। आशा करती हूं आप दिल्ली में एक मजबूत विकल्प बने रहेंगे। आप के साथ पिछले छह साल यादगार रहें और आप से बहुत कुछ सीखने को मिला। बहरहाल, उन्होंने यह नहीं बताया कि वह अगले साल दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी छोड़ेंगी या बाद में। लांबा के रिश्ते कुछ वक्त से पार्टी नेतृत्व के साथ अच्छे नहीं चल रहे हैं। शनिवार को विधायक ने राष्ट्रीय राजधानी की सभी सात सीटों पर आप की करारी शिकस्त के लिए पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल से जवाबदेही तय करने की मांग की थी, जिसके बाद पार्टी विधायकों के व्हाट्सऐप ग्रुप से उन्हें बाहर कर दिया गया। लांबा ने ट्विटर पर स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं, जिनमें दिख रहा है कि उन्हें उत्तर पूर्वी दिल्ली से आप के पराजित उम्मीदवार दिलीप पांडे ने ग्रुप में से निकाला है। विधायक अलका लांबा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से कहा कि लोकसभा चुनाव में हार के लिए उन्हें क्यों जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। कभी ग्रुप में जोड़ते हो,कभी निकालते हो। बेहतर होता इससे ऊपर उठकर कुछ सोचते, बुलाते, बात करते, गलतियों और कमियों पर चर्चा करते, सुधार कर के आगे बढ़ते।

You might also like