अधिकार-कर्त्तव्य एक ही सिक्के के दो पहलू

बंजार -एसडीएम बंजार के सभागार में शुक्रवार को एकदिवसीय विधिक साक्षरता शिविर  का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता सिविल न्यायालय बंजार के न्यायाधीश अजय कुमार ने की। इस अवसर पर उन्होंने भारतीय संविधान में वर्णित मौलिक अधिकारों व कर्त्तव्यों का उल्लेख करते हुए मुख्य सिद्धांतों की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कानून अच्छे हैं, लेकिन इनकी जानकारी न होने व आम लोगों का अपने मौलिक अधिकारों व कर्त्तव्यों के प्रति जागरूक न होने के कारण आज न्यायपालिका को भी अनेक प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। आज एक मामले पर सरकार का 24 हजार रुपए खर्च हो रहा है। इस अवसर पर उन्होंने विभिन्न प्रकार के उदाहरण देते हुए लोगों को जागरूक किया। उन्होंने इस अवसर पर सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान न पहुंचाने और सिविल सैंस के तहत कानून का पालन करने का आह््वान किया। इस अवसर पर उन्होंने बंजार के ट्रैफिक जाम को लेकर टैक्सी यूनियन व पुलिस प्रशासन को निर्देश दिए कि वे यातायात समस्या के हल को लेकर उचित कदम उठाए और कानून की  अवेहलना न करे अन्यथा उन्हें स्वयं कठोर कदम उठाने पर मजबूर होना पड़ेगा।  नगर पंचायत बंजार के  अध्यक्ष कुंजलाल राणा,  उपाध्यक्ष ज्ञान सागर,  टैक्सी यूनियन के घनश्याम शर्मा व अनुज गौतम सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

You might also like