अनुराग ठाकुर ने जड़ा चौका

विधानसभा का हिसाब बराबर कर आगे निकली बीजेपी 

हमीरपुर –आखिर हमीरपुर संसदीय क्षेत्र ने प्रदेश की सियासत के इतिहास में नया अध्याय रच दिया। प्रदेश की सबसे हॉट मानी जाने वाली इस संसदीय सीट से अनुराग ठाकुर ने लगातार चौथी बार जीत दर्ज की, जो कि आज तक पहले किसी भी सीट पर  में नहीं हुआ है। जीत भी हजारों में नहीं लाखों के अंतर से। अनुराग के पक्ष में 682692 मत तो कांग्रेस प्रत्याशी रामलाल के पक्ष में 283120 वोट पड़े। यानी बीजेपी के पक्ष में 68.78 फीसदी, जबकि कांग्रेस के पक्ष में मात्र 28.09 प्रतिशत मतदान हुआ। बता दें कि वर्ष 2014 के लोस चुनावों में अनुराग ठाकुर को 98403 मतों की लीड मिली थी। इस बार संसदीय क्षेत्र में बीजेपी को जसवां परागपुर हलके से सबसे अधिक 29174 की लीड मिली है। यही नहीं, अनुराग ठाकुर की इस जीत के बाद बीजेपी यहां विधानसभा चुनावों का इतिहास बराबर करने के बाद आगे भ्ज्ञी निकल गई। हमीरपुर  के 17 हलकों में विधानसभा चुनावों के दौरान बीजेपी सात विधानसभा क्षेत्रों में पिछड़ गई थी। इनमें सुजानुपर भी शामिल था, जहां से न केवल भाजपा को हार का सामना करना पड़ा था बल्कि इस हार के कारण पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल सीएम बनने-बनते रह गए थे। इस बार बीजेपी को यहां से 25038 मत पड़े हैं, जो कि एक रिकॉर्ड है। वर्ष 2014 में हुए लोकसभा के चुनावों में हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के 17 हलकों में से 16 पर बीजेपी आगे रही थी, लेकिन हरोली में बीजेपी काफी पिछ़ड गई थी। यही नहीं पिछले विधानसभा चुनावों में भी कांग्रेस में मौजूदा विधायक दल के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने बीजेपी प्रत्याशी को यहां 7377 मतों से पराजित किया था, लेकिन इस बार लोस चुनावों में हरोली से बीजेपी को 14921 मतों की लीड मिली है। ऊना जिले में सबसे अधिक 27227 मतों की लीड बीजेपी प्रत्याशी को कुटलैहड़ हलके से आई है। हमीरपुर जिला की बात करें तो जिस नादौन सीट पर कांग्रेस के पूर्व प्रदेश विधानसभा चुनावों में 2203 मतों से जीते थे, वहां से अनुराग ठाकुर को सबसे ज्यादा लीड मिली है। यहां से बीजेपी प्रत्याशी को 27853 मतों की लीड मिली है। उधर, बिलासपुर जिले के घुमारवीं हलके से अनुराग ठाकुर को सबसे ज्यादा 20187 वोटों की लीड मिली है।

 लोस चुनाव, 2014

विधानसभा बीजेपी     कांग्रेस

देहरा       24083     18272

जसवां परागपुर        24116     17003

धर्मपुर      25363     17389

भोरंज      28636     17758

सुजानपुर  24210     20990

हमीरपुर    26894     18559

बड़सर     27802     22825

नादौन     28890     25068

चिंतपूर्णी   25682     22078

गगरेट      26248     20581

हरोली     23157     30117

ऊना       31007     19592

कुटलैहड़  28532     21935

झंडूता      24287     18779

घुमारवीं    28404     19444

बिलासपुर सदर       26005     18381

श्री नयनादेवी          23439     20100

पोस्टल बेलेट          1280      761

  लोस चुनाव, 2019

विधानसभा बीजेपी     कांग्रेस

देहरा       39785     13120

जसवां-परागपुर        40584     11410

धर्मपुर      37172     9549

भोरंज      40175     12658

सुजानपुर  38049     13011

हमीरपुर       37075       16547

बड़सर         40713            16547

नादौन     45416     17563

चिंतपूर्णी   38552     19188

गगरेट      40885     18630

हरोली     38220     23299

ऊना       42797     18210

कुटलैहड़  43672     16445

झंडूता      35765     17625

घुमारवीं    39800     19825

बिलासपुर 37137     18931

श्रीनयनादेवी           33015     22182

पोस्टल बेलेट          13880     2120

राम लाल को घर में मिली शिकस्त

इस बार लोकसभा चुनावों में चौंकाने वाली बात यह है कि जिस श्री नयनादेवी हलके से कांग्रेस के प्रत्याशी रामलाल ठाकुर संबंध रखते हैं ,वहां से बीजेपी को 10833 मतों की लीड मिली है। वर्ष 2014 के लोस चुनावों में बीजेपी को यहां से 3339 मतों की बढ़त मिली थी , जबकि 2017 के विधानसभा चुनावों में इस हलके से बीजेपी के प्रत्याशी 1042 वोटों से हार गए थे। बता दें कि पांच जिलों और 17 विधानसभा क्षेत्रों में फैले हमीरपुर संसदीय क्षेत्र से इस बार 9 लाख 72 हजार 249 मतदाताओं ने वोट डाले थे। 

You might also like