अप्रैल 2019 में रिकार्ड 1,13,865 करोड़ रुपये का जीएसटी संग्रह

चालू वित्त वर्ष के पहले महीने अप्रैल में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) व्यवस्था लागू होने के बाद अब तक का सबसे अधिक 1,13,865 करोड़ रुपये का जीएसटी राजस्व संग्रह हुआ है जो अप्रैल 2018 में संग्रहित 1,03,459 करोड़ रुपये की तुलना में 10.05 प्रतिशत अधिक है। सरकार द्वारा बुधवार को जारी आँकड़ों के अनुसार, मार्च 2019 में कुल राजस्व संग्रह 1,06,577 करोड़ रुपये रहा था। वित्त मंत्रालय ने बताया कि अप्रैल 2019 में 21,163 करोड़ रुपये केंद्रीय जीएसटी, 28,801 करोड़ रुपये राज्य जीएसटी, 54,733 करोड़ रुपये एकीकृत जीएसटी और 9,168 करोड़ रुपये उपकर के रूप में प्राप्त हुये हैं। एकीकृत जीएसटी में 23,289 करोड़ रुपये और उपकर में 1,053 करोड़ रुपये आयात से प्राप्त हुये हैं। सेटलमेंट के बाद अप्रैल 2019 में केंद्र सरकार का कुल राजस्व 47,533 करोड़ रुपये और राज्य सरकार का राजस्व 50,776 करोड़ रुपये रहा है। एकीकृत जीएसटी में से केंद्र को 20,370 करोड़ रुपये और राज्यों को 15,975 करोड़ रुपये स्थायी सेटलमेंट के तौर पर दिये गये। इसके अलावा शेष एकीकृत जीएसटी राशि में से केंद्र को 12 हजार करोड़ रुपये और राज्यों को 12 हजार करोड़ रुपये अस्थायी सेटलमेंट के रूप में दिये गये हैं। 
मार्च 2019 के लिए गत 30 अप्रैल तक कुल 72 लाख 13 हजार जीएसटीआर-3बी फॉर्म भरे गये थे। 

You might also like