अफगानिस्तान को हल्के में नहीं लेंगी दूसरी टीमें

नई दिल्ली -वर्ल्ड कप में 2015 में पदार्पण के बाद से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बड़ी छलांग लगाने वाली टीम अफगानिस्तान वर्ल्ड कप में अगर एक-दो बड़ी टीमों को पछाड़ने में सफल रहा, तो किसी को आश्चर्य नहीं होगा। वर्ल्ड कप में सभी टीम को एक-दूसरे से भिड़ना है और ऐसे में कोई भी टीम उसे हल्के में नहीं लेना चाहेगी। 2015 में अफगानिस्तान सिर्फ एक मैच में जीत दर्ज कर सका था, लेकिन उस समय राशिद खान जैसे मैच विजेता टीम में नहीं थे। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी माना की अफगानिस्तान की टीम ने पिछले चार साल में काफी प्रगति की है। उन्होंने कहा, अगर आप 2015 की अफगानिस्तान की टीम को देखेंगे तो अब टीम पूरी तरह से बदल गई है। कोई भी टीम किसी को भी हरा सकती है। टीम के पास अब अनुभव है और आईसीसी विश्व कप क्वालिफायर में उसने वेस्टइंडीज को फाइनल सहित दो बार हराया था।  टीम की तैयारियों को उस समय झटका लगा, जब लंबे समय से तीनों प्रारूप में कप्तानी कर रहे असगर अफगान को अचानक इस जिम्मेदारी से मुक्त कर दिया गया, वह हालांकि वनडे टीम में शामिल हैं। 

 

You might also like