अब एक दिन बाद उठेगा कूड़ा

नगर निगम धर्मशाला ने शुरू की मुहिम, नए टेंडर पर मंजूरी मिलते ही शुरू होगा काम

धर्मशाला -नगर निगम धर्मशाला की लगभग तीन साल बीत जाने के बाद भी सफाई व्यवस्था पूरी तरह से सुचारू नहीं हो पा रही है। कभी निगम के कर्मचारी घरों से कूड़ा-कचरा उठाने के लिए पहुंच जाते हैं, तो कभी कई माह तक गायब हो जाते हैं। फिल्हाल अब फिर निगम द्वारा घर से एक दिन बाद कूड़ा-कचरा एकत्रित करने की मुहिम शुरू कर दी गई है। हालांकि कई स्थानों में हर दिन कूड़ा-कचरा उठाए जाने की बात भी निगम प्रतिनिधियों व अधिकारियों द्वारा की जा रही है। एमसी धर्मशाला ने नए टेंडर की प्रक्रिया कई माह बीत जाने के बाद भी पूरी तरह से लटकी हुई है। ऐसे में अब भी पुरानी योजनाओं के सहारे ही काम चल रहा है। नगर निगम के साथ-साथ स्मार्ट सिटी के लिए चयनित हुए शहर धर्मशाला की सफाई व्यवस्था अब भी ठिकाने नहीं लग पा रही है। शहर में कई स्थानांे पर भूमिगत कूड़ेदान स्थापित किए गए हैं, इसके साथ ही कई जगह खुले कूड़ेदान भी रखे गए हैं। वहीं निगम में शामिल हुए क्षेत्रों में भी कूड़ेदान की व्यवस्था की गई है। साथ ही निगम ने घर-घर से कूड़ा एकत्रित करने की योजना भी बनाई है, जिसके तहत प्रतिमाह 50 रुपए की अदायगी परिवार को करनी होगी, लेकिन कई दिनों से कूड़ा-कचरा घरों से उठाने वाले गायब हो गए थे। इतना ही नहीं, अब एक बार फिर से कूड़ा एकत्रित करने के लिए लोग पहुंचना शुरू हो गए हैं। ऐसे में अब निगम ने जुगाड़ की व्यवस्था एक दिन के बाद घरों से कूड़ा कचरा उठाएगी, जबकि नए टेंडर की प्रक्रिया अधर में ही लटकी हुई है। वहीं निगम की डंपिंग साइट का भी अब तक कोई समाधान नहीं हो पाया है। खराब कूड़े-कचरे संयंत्र में ही शहर की गंदगी को डंप किया जा रहा है। उधर, नगर निगम धर्मशाला के महापौर देवेंद्र जग्गी ने बताया कि अब घर-घर से कूड़ा-कचरा उठाने के निर्देश दिए गए हैं। कुछेक क्षेत्रों में एक दिन बाद कूड़ा उठाने के लिए कर्मचारी जाएंगे। उन्होंने बताया कि नए टेंडर को लेकर भी प्रक्रिया चल रही है, अप्रूवल मिलते ही कार्य किया जाएगा। 

You might also like