अब ऐसे सेट होंगे पेपर

स्कूल शिक्षा बोर्ड में अध्यापकों के सुझावों पर आगे बढ़ेगी बात, प्रदेश भर के 160 अध्यापकों ने दिए सुझाव

धर्मशाला -प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने मैट्रिक के छह और जमा दो के 12 विषयों के प्रश्नपत्रों की सेटिंग और मोडरेशन को लेकर गुरुवार को बोर्ड मुख्यालय में  कार्यशाला का आयोजन किया।इस कार्यशाला में अध्यापकों ने प्रश्न पत्र सेंटिंग को लेकर अपने सुझाव बोर्ड प्रबंधन को दिए। बोर्ड अध्यक्ष डा. सुरेश कुमार सोनी की अध्यक्षता में  आयोजित हुई पहले चरण की कार्यशाला में दसवीं कक्षा के गणित, अंग्रेजी, हिंदी, सामाजिक विज्ञान, विज्ञान एवं तकनीक और संस्कृत विषय के प्रश्न पत्रों के बारे चर्चा हुई। जमा दो के अंग्रेजी, गणित, हिंदी, फिजिक्स, ेकेमिस्टरी, बायोलॉजी, लेखांकन, व्यावसायिक अध्ययन, इतिहास, राजनीतिक शास्त्र, अर्थशास्त्र और संस्कृति विषय के प्रश्न पत्रों बारे मंथन हुआ। इस कार्यशाला में विभिन्न विषयों के डेढ़ सौ से अधिक अध्यापकों ने भाग लिया। बोर्ड अध्यक्ष डा. सुरेश कुमार सोनी ने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है, जब प्रश्नपत्र निर्धारण सहित मोडरेशन के लिए अध्यापकों की कार्यशाला हुई हो। इससे पूर्व पत्राचार के माध्यम से ही अध्यापकों से सुझाव लिए जाते रहे हैं। उन्होंने कहा कि बोर्ड ने कक्षा पहली से बारहवीं तक पाठ्य पुस्तकें एवं प्रायोगिक पुस्तकें प्रकाशित करवा कर बोर्ड के पुस्तक वितरण, सूचना एवं मार्गदर्शन केंद्रों को उपलब्ध करवा दी हैं तथा सभी राजकीय और निजी शिक्षण संस्थानों को केवल बोर्ड द्वारा प्रकाशित पाठ्यक्रम/पाठ्य  पुस्तकों को ही पढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बोर्ड की कार्यप्रणली में सुधार लाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसके लिए स्कूली अध्यापकों की सहायता ली जाएगी। बोर्ड सचिव ने अध्यापकों से बोर्ड के निर्धारित दिशा-निर्देशों के अनुसार ही पेपर सेंटिंग करने को कहा। अतिरिक्त सचिव रेखा कपूर ने कहा कि एसओएस सिस्टम ऑफ एजुकेशन को बोर्ड और अध्यापकों के माध्यम से स्टडी फ्रेंडली बनाने का प्रयास किया जा रहा है। संयुक्त सचिव चमन लाल ने बोर्ड की मुद्रित करवाई गई पाठ्य पुस्तकों एवं प्रायोगिक पुस्तकों की जानकारी दी।

 

 

You might also like