अब मंत्री बनने को रास्ता खुलने का इंतजार

नई दिल्ली – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगवाई में एक बार फिर से केंद्र में भाजपा की सरकार बनने वाली है। मोदी 30 मई को प्रधानमंत्री पद और गोपनीयता की शपथ ग्रहण करेंगे। इसी के साथ अब कैबिनेट गठन पर भी चर्चा शुरू हो गई है। अटकलें हैं कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी दी जा सकती है। दरअसल, रक्षा मंत्री का पद बीजेपी सरकार के लिए महत्त्वपूर्ण है, क्योंकि इस चुनाव में भारतीय सेना और पाकिस्तान में घुसकर की गई सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक की काफी चर्चा हुई थी। ऐसे में सरकार एक मजबूत रक्षा मंत्री के तौर पर शाह को यह अहम पद दे सकती है। वैसे किस सांसद को कौन सा मंत्रालय दिया जाए, इस पर अंतिम फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेना है। संभावना जताई जा रही है कि कैबिनेट में कई युवा चेहरों को जगह मिल सकती है। इस दौरान भाजपा के सहयोगी दलों को भी अहम पद दिए जा सकते हैं।

इनके नाम पर लग सकती है मुहर

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अमित शाह, पीयूष गोयल, निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी, रविशंकर प्रसाद, जितेंद्र सिंह, राजनाथ सिंह, सुरेश प्रभु, राज्यवर्द्धन सिंह राठौर, वीके सिंह, महेश शर्मा, सुषमा स्वराज, मुख्तार अब्बास नकवी, राकेश सिंह, नित्यानंद राय, मनोज तिवारी, महेंद्रनाथ पांडे, अनुप्रिया पटेल, हरसिमरत कौर, चिराग पासवान, भूपेंद्र यादव, गिरिराज सिंह, अनुराग ठाकुर, अर्जुन राम मेघवाल, गजेंद्र सिंह शेखावत, राधामोहन सिंह, नरेंद्र सिंह तोमर, सनी दियोल, तेजस्वी सूर्या, संजीव बालयान, सत्यपाल सिंह, वरुण गांधी, किरण रिजिजू, राव इंद्रजीत सिंह व कृष्ण पाल इत्यादि लोग शामिल हो सकते हैं।

प्रचंड मोदी लहर में भी अपनी सीट नहीं बचा पाए एनडीए सरकार के पांच बड़े मंत्री

नई दिल्ली – लोकसभा चुनाव के सियासी दंगल में एक बार फिर से मोदी लहर देखने को मिली और ज्यादातर राज्यों में मजबूत प्रदर्शन की बदौलत बीजेपी ने अपने दम पर बहुमत हासिल कर ली। लोकसभा के नतीजों में प्रचंड बहुमत हासिल कर एक बार फिर मोदी सरकार की दस्तक दे दी है। मगर पूरे देश में मोदी लहर के बावजूद भी कई ऐसे मंत्री रहे, जो अपनी सीट भी नहीं बचा पाए। मोदी सरकार के पांच दिग्गज मंत्री इस लोकसभा में अपनी सीट नहीं बचा पाए।

हंसराज गंगाराम अहिर : मोदी सरकार में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज गंगा राम अहिर की हार हुई है. इन्हें कांग्रेस के सुरेश धनोरकर ने चंद्रापुर सीट से हराया।

मनोज सिन्हा : केंद्रीय रेल राज्य मंत्री को मनोज सिन्हा की हार ने सबको चौंका दिया है। सिन्हा को गाजीपुर सीट से बसपा के अंसारी के हाथों हार मिली।

पॉन राधाकृष्णन : तमिलनाडु की कन्याकुमारी सीट पर वित्त राज्य मंत्री पॉन राधाकृष्णन को कांग्रेस नेता एच वसंत कुमार ने हराया।

केजे अल्फोंस : केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस भी मोदी लहर में अपनी सीट नहीं बचा पाए। केरल में कांग्रेस नेता हिबी हिडेन केजे अल्फोंस को हराया।

हरदीप पुरी : अमृतसर सीट से को कांग्रेस के गुरजीत सिंह आहुजा ने हराया।

 

You might also like