अब वक्त हमारा है…

शिमला —अपनी दमदार आवाज से प्रदेश के मेले, शादियों व रौनक माने जाने वाले युवा पहाड़ी गायक विक्की चौहान ने ‘दिव्य हिमाचल’ के प्रयासों की सराहना की है। उन्होंने कहा कि पहाड़ी प्रदेश में टेलेंट की कमी नहीं है। यहां के लोग सुरीले हैं। जरूरत है केवल मंच और मार्गदर्शन की। यदि हिमाचल के युवाओं को प्रदेश में संगीत से संबंधित आधारभूत सुविधाएं मिले तो बालीवुड जगत में हिमाचली बड़ा नाम कमाने की काबलियत रखता है। लोक गायक विक्की चौहान ने कहा कि उन्हें ‘दिव्य हिमाचल’ ने विशेष पहचान दिलाई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश का अग्रणी समाचार पत्र राज्य के युवाओं को टेलेंट दिखाने के लिए बेहतर मंच प्रदान कर रहा है। वहीं उन्होंने सरकार की भी सराहना की है। उन्होंने कहा कि राज्य में होने वाले मेलों में पहले जहां पहाड़ी कलाकारों को कम समय मिलता था। वहीं अब पहाड़ी कलाकारों को भी स्टार नाइट मिल रही है। यही नहीं उन्होंने प्रदेश में बढ़ रही नशे की प्रवृत्ति से सभी प्रतिभागियों को दूर रहने का आह्वान किया। प्रदेश के गायकों को बड़ा मंच प्रदान करने के लिए विक्की चौहान ने ‘दिव्य हिमाचल’ के प्रयासों की सराहना की है। उन्होंने कहा कि दिव्य हिमाचल पहाड़ी युवाओं को सशक्त मंच प्रदान कर रहा है, जहां से प्रतिभा निकल कर राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नाम कमा रही है। इस मंच से बड़े-बड़े कलाकार बड़े रियेलटी शो तक पहुंच गए हैं जहां पर उन्होंने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है।

विक्की चौहान ने पहाड़ी गीतों पर झुमाया

विक्की चौहान ने ऑडिशन के दौरान कई पहाड़ी गीत भी प्रस्तुत किए। उनके गीतों को सुनकर सभागार में उपस्थित परिजन और प्रतिभागी खुद को झूमने से नहीं रोक पाए। विक्की के सॉन्ग भाई जी बात है ऐसी ने सभागार में हर शख्स को रोमांचित कर दिया।

मिस हिमाचल की फाइनलिस्ट भी रहीं मौजूद

‘दिव्य हिमाचल’ के मिस हिमाचल 2019 की विजेता नितिका भी हिमाचल की आवाज ऑडिशन के अवसर पर मौजूद रही। उन्होंने ऑडिशन के दौरान सभी प्रतिभागियों की हौसलाफजाई की। इतना ही नहीं नितिका ने मंच पर गीत गाकर उपस्थित सभी प्रतिभागियों का मनोरंजन किया।

प्रतिभागियों ने सभागार में मचाया धमाल

पोर्टमोर स्कूल में आयोजित ‘हिमाचल की आवाज सीजन-7’ के ऑडिशन में इसी स्कूल की सक्षम प्रतिभागी रजनी नेगी ने अपनी सुरीली आवाज से उपस्थित सभी लोगों का मनोरंजन किया। रजनी नेगी ने अपने मनमोहक गीत की प्रस्तुति से छात्राओं को अपनी-अपनी सीट पर झूमने को मजबूर कर दिया।

You might also like