अवैध खनन करने वालों की खैर नहीं

डीसी पंचकूला डा. बलकार ने अधिकारियों को दिए कार्रवाई करने के निर्देश

पंचकूला -उपायुक्त डा. बलकार सिंह ने खनन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अवैध खनन की हर गतिविधि पर नजर रखें और ऐसे मामलों में शामिल लोगों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई अमल में लाए। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा पंचकूला व कालका उपमंडल में संबंधित एसडीएम की अध्यक्षता में टास्क फोर्स गठित करके ऐसे मामलों की जानकारी मिलने पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए गए है। उन्होंने अधिकारियों को यह निर्देश दिए कि वे सूचना तंत्र को मजबूत करके अवैध खनन की हर छोटी बड़ी गतिविधियों पर नजर रखें और मामला ध्यान में आने पर तुरंत कानूनी कार्रवाई भी अमल में लाए। उन्होंने कहा कि यह निर्देश भी दिए गए है कि टास्क फोर्स के चेयरमैन प्रतिमास बैठक आयोजित करके अवैध खनन रोकने के लिऐ्र की गई कार्रवाई की समीक्षा करेंगे और जिला स्तरीय टास्क फोर्स की मासिक बैठक में भी इन सभी सदस्यों से महीने के दौरान की गई रेड, दर्ज किए गए मामलों व अवैध खनन रोकने के लिए उठाए गए अन्य कदमों की जानकारी ली जाएगी। उन्होंने कहा कि अवैध खनन न केवल खनन कानूनों की उल्लंघना है बल्कि इससे पर्यावरण और राजस्व का भी नुकसान होता है।  टास्क फोर्स की जिम्मेवारी है कि अवैध खनन के मामले में लापरवाही न हो।

जिस अधिकारी के क्षेत्र में होगा खनन, उसपर होगी कार्रवाई

उन्होंने कहा कि अधिकारियों को यह निर्देश भी दिए गए है कि जिस भी अधिकारी के क्षेत्र में अवैध खनन का मामला ध्यान में आएगा, उसके विरुद्ध प्रशासनिक कार्रवाही अमल में लाई जाएगी। डा. बलकार सिंह ने बताया कि उपमंडल स्तर की टास्क फोर्स में एसडीएम को चेयरमैन बनाया गया है, जबकि दोनों मंडलों में जिला खनन अधिकारी इसके सदस्य सचिव होंगे। उन्होंने बताया कि उपमंडल स्तर पर सहायक पुलिस आयुक्त, हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी, तहसीलदार व नायब तहसीलदार, उपमंडल में आने वाले थाना प्रभारी, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी, खनन निरीक्षक और वन विभाग के संबंधित क्षेत्र के रेंज अधिकारी टास्क फोर्स के सदस्य होंगे।

 

You might also like