अवैध खनन के रास्तों को तुरंत करें बंद

चंबा—डीसी हरिकेश मीणा ने जिला में अवैध खनन को रोकने के लिए सभी उपमंडल अधिकारियों और खनन विभाग को संयुक्त रूप से संदिग्ध और संभावित स्थलों पर नियमित रूप से रेड करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सप्ताह में कम से कम एक बार यह कार्य किया जाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने यह आदेश गुरूवार को खनन विभाग से संबंधित त्रैमासिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए दिए। हरिकेश मीणा ने खनन विभाग से सड़कों की कटिंग कार्य के लिए जमा करवाए जाने वाली रायल्टी का पूर्ण विवरण भी मांगा। उन्होंने कहा कि सड़कों के किनारे होने वाली कटिंग की रायल्टी समयबद्व जमा करवाई जानी बहुत महत्वपूर्ण है । सड़कों के किनारे की जाने वाली कटिंग की रायल्टी की दर 60 रुपए प्रति टन है। डीसी ने लोक निर्माण विभाग व खनन विभाग को उन रास्तों को तुरंत  बंद करने के निर्देश दिए जो अवैध खनन के लिए उद्देश्य से अवैध रूप में बनाए जाते हैं। डीसी ने कहा कि भारी वाहनों में ओवरलोडिंग की जांच करने के लिए सही व्यवस्था तैयार की जाए। उन्होंने सुंडला,  भटियात व चंबा में भार तोलन मशीन स्थापित करने की संभावनाओं पर विचार करने को भी कहा। उन्होंने पड़ोसी राज्यों से खनन संबंधित उत्पाद के परिचालन में लगी गाडि़यों द्वारा संबंधित प्रावधानों का पालन सुनिश्चित करने के विभागीय प्रयासों को तेज करने के भी निर्देश दिए। हरिकेश मीणा ने कहा कि नवंबर 2018 से अप्रैल 2019 तक जिला में अवैध खनन के 233 मामले सामने आए हैं। इनमें से 84 मामले कंपाउंड हुए हैं। नवंबर 2018 से जनवरी 2019 तक खनन विभाग द्वारा अवैध खनन के 47 चालान तथा पुलिस विभाग द्वारा 99  चालान किए गए हैं । फरवरी 2019 से अप्रैल 2019 तक खनन विभाग द्वारा 28 तथा पुलिस विभाग द्वारा अवैध खनन के 66 चालान किए गए हैं। उन्होंने सभी विभागों को अवैध खनन रोकने के लिए के समन्वय के साथ कार्य करने के निर्देश दिए ।  इस अवसर पर खनन अधिकारी ज्योति कुमार पुरी ने खनन विभाग की विभिन्न गतिविधियों की जानकारी भी दी।  बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रमन शर्मा, उपमंडलाधिकारी चंबा दीप्ति मढोंत्रा, उपमंडलाधिकारी भटियात डा. अवनिंद्र उपमंडलाधिकारी डलहौजी डा. मुरारी लाल,  क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ओंकार सिंह, सहायक अभियंता लोक निर्माण राजेंद्र सेखरी, नरेंद्र चौधरी सहायक अभियंता सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य जितेंद्र शर्मा व भूपेंद्र कुमार और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

You might also like