इंस्पेक्टर से बदसलूकी पर बस से उतारा कंडक्टर

मसरेड़ में अधिकारियों का वीडियो बनाकर वायरल करने पर निगम प्रबंधन ने की कार्रवाई

कांगड़ा -हिमाचल पथ परिवहन निगम की बस की धर्मशाला-कांगड़ा वाया बरवाला रूट बस का निरीक्षण करने पहुंचे निगम के चीफ इंस्पेक्टर के साथ परिचालक द्वारा दुर्व्यवहार करने का मामला सामने आया है। इतना ही नहीं, बस में सवारियांे की टिकट चैकिंग करने के दौरान परिचालक द्वारा मामले का वीडियो भी बनाया गया, जिसको सोशल मीडिया पर वायरल किया गया है। मामले की सूचना मिलने के बाद ही निगम प्रबंधन ने आरोपी परिचालक को बस से उतार दिया तथा परिचालक के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का निर्णय लिया है। बुधवार को धर्मशाला से कांगड़ा वाया बरवाला जा रही बस में सफर कर रही सवारियांे की टिकट जांचने के लिए नगरोटा बगवां एचआरटीसी डिपो के दो चीफ  इंस्पेक्टर विनोद शर्मा व राजेंद्र सिंह ने मसरेहड़ मंे बस को रोका। निगम के सीआई ने बस के परिचालक को बस से नीचे उतरने के लिए कहा, जिससे कि वह टिकट चैक कर सकंे। आरोप है कि परिचालक बस से नहीं उतरा तथा उसने अधिकारियांे के साथ बदतमीजी करना आरंभ कर दिया।  परिचालक ने बस में सवार यात्रियों को भी अधिकारियांे के खिलाफ उकसाना आरंभ कर दिया। इस मामले को लेकर परिचालक ने इस पूरी घटना का एक वीडियो भी बनाया है, जिसे सोशल मीडिया पर वायरल किया गया है। इस मामले को लेकर टिकट चैकिंग के लिए पहुंचे दोनांे इंस्पेक्टर द्वारा निगम प्रबंधन को शिकायत सौंपी गई।

 निगम प्रबंधन ने भी शिकायत मिलने के बाद परिचालक को बस से उतार दिया है तथा आगामी कार्रवाई आरंभ कर दी है। इस मामले को निगम की अनुशासन कमेटी के समक्ष पेश किया जाएगा। अब कमेटी द्वारा ही इस मामले में आगामी कार्रवाई अमल में लाएगी। वहीं, इस मामले के बाद हिमाचल पथ परिवहन निगम की संयुक्त समन्वय समिति के प्रधान रणजीत सिंह व महासचिव ने इंस्पेक्टर्स पर बदले की भावना से कार्य करने का आरोप लगाया है। समिति के पदाधिकारियांे का आरोप है कि निगम मंे चालक-परिचालकांे से बदले की भावना से ड्यूटी ली जा रही है तथा बसांे की चैकिंग की जा रही है। 

 

You might also like