इस बार बनेगा 500 का पहाड़

वर्ल्डकप मैचों की पिचों के लिए इंग्लैंड बोर्ड का दावा, बदले जा रहे फैंस स्कोर बोर्ड

लंदन – सपाट पिचों पर बन रहे बड़े स्कोर के मद्देनजर इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने आगामी क्रिकेट वर्ल्डकप के दौरान आधिकारिक फैंस स्कोर बोर्ड को नए सिरे से डिजाइन किया, ताकि इसमें एक पारी का स्कोर 500 तक समायोजित किया जा सके। इंग्लैंड के मैदानों पर एक आकर्षण दर्शकों के लिए तैयार प्रिंटेड स्कोरबोर्ड होते हैं, जो कोई भी एक या दो पाउंड देकर खरीद सकता है, फैंस इसे यादगार के रूप में अपने पास रखते हैं। फैंस मैच के दौरान पेन से इसमें रन काटते हैं। डेली टेलीग्राफ के अनुसार वर्ल्डकप के दौरान फैंस के लिए तैयार इन स्कोरबोर्ड में शुरू में एक पारी में अधिकतम स्कोर 400 रखा गया था, लेकिन पिछले सप्ताह बैठक के दौरान टूर्नामेंट निदेशक स्टीव एलवर्दी ने कहा कि इन स्कोरबोर्ड को फिर से डिजाइन कर इसमें स्कोर को 500 तक रखना होगा।

300 से ज्यादा स्कोर नहीं सुरक्षित

लंदन। 2015 विश्वकप के बाद से आज तक पूरे हो चुके 469 वनडे मैचों में 128 टीमों ने पहले बल्लेबाजी कर 300 से ज्यादा रन बनाए हैं। यह स्कोर भी काफी नहीं रहा और पहले बल्लेबाजी करने वाली टीमें 77 प्रतिशत मैच (128 में से 99) ही जीत पाई हैं। इसकी तुलना में 341 मैचों में टीमों ने पहले बल्लेबाजी कर 300 से कम रन बनाए और 130 मैचों में जीत दर्ज की। इस तरह पहले बल्लेबाजी कर 300 से कम रन बनाने के मामले में टीम की जीत का प्रतिशत 38 प्रतिशत रहा।

नॉटिंघम में दो बार 400 प्लस

इंग्लैंड ने अगस्त 2016 में नॉटिंघम में पाकिस्तान के खिलाफ तीन विकेट पर 444 रन बनाए। इंग्लैंड ने इसके बाद पिछले साल जून में आस्ट्रेलिया के खिलाफ नॉटिंघम में छह विकेट पर 481 रन बनाए।

2015 वर्ल्डकप के बाद वनडे

मुकाबलों में जीत का प्रतिशत

*  341 मैचों में टीमों ने 300 से कम का टारगेट रखा; 130 जीते, जीत प्रतिशत 38

*  87 मैचों में टीमों ने 300 से 349 का टारगेट रखा; 64 जीते, जीत प्रतिशत 74

*  36 मैचों में 350 से 399 का लक्ष्य रखा गया, 30 जीते, जीत प्रतिशत 83

*  पांच बार 400 से ज्यादा का टारगेट दिया गया, पांचों जीते, जीत प्रतिशत 100

इंग्लैंड में 18 मैचों में 300 प्लस स्कोर चेज

इंग्लैंड की सपाट पिच पर गेंदबाजों की हालत पिछले कुछ समय से ज्यादा खराब चल रही है। पिछले वर्ल्डकप के बाद इंग्लैंड में हुए 56 मैचों में से 18 मैचों में 300 प्लस का टारगेट हासिल किया गया। इंग्लैंड ने मंगलवार को अपने घर में लगातार 16वीं बार सफलतापूर्वक लक्ष्य हासिल किया। इंटरनेशनल वनडे में सर्वाधिक स्कोर का रिकार्ड पिछले वर्ल्डकप के बाद दो बार टूटा और दोनों बार यह करिश्मा इंग्लैंड ने किया। इस तरह इस बार वर्ल्डकप में बड़ा स्कोर चेज करना भी मुमकिन है।

इंग्लैंड-पाक सीरीज से बड़े स्कोर के संकेत

इंग्लैंड ने पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज के तीसरे वनडे इंटरनेशनल मैच में 359 का लक्ष्य चार विकेट खोकर हासिल कर लिया। एकदिवसीय क्रिकेट में लक्ष्य का पीछा करते हुए यह इंग्लैंड की दूसरी सबसे बड़ी जीत थी। इंग्लैंड ने यह लक्ष्य पांच ओवर बाकी रहते हासिल कर लिया। हैरानी की बात यह है कि 350 प्लस से ज्यादा के स्कोर को बिना किसी परेशानी के हासिल कर लिया गया, तो ऐसे में यह सवाल उठने लगा है कि 50 ओवर के गेम में टीमों के लिए क्या स्कोर सुरक्षित माना जाए। वहीं, पाकिस्तान के खिलाफ मौजूदा सीरीज के दूसरे वनडे में इंग्लैंड ने तीन विकेट पर 373 रन बनाए थे, जवाब में पाकिस्तान ने 361 रन बना लिए थे।

You might also like