एक-दूसरे पर दोषारोपण से बचें वीरभद्र

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष राठौर बोले, चुनाव नतीजे देख खुद भाजपा नेता भी हैरान

शिमला —चुनाव में करारी हार के बाद अब कांगे्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर ने पार्टी के दिग्गज नेता  एवं पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को नसीहत देते हुए एक-दूसरे पर दोषारोपण से बचने को कहा है। राठौर ने कहा कि वीरभद्र सिंह समेत दूसरे नेताओं ने जिम्मेदारी के साथ काम किया, परंतु ऐसे मौके पर एक-दूसरे पर दोष मढ़ना ठीक नहीं, इसलिए नेताआें को संयम बरतना चाहिए।  शनिवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में राठौर ने कहा कि कांग्रेस तो क्या खुद भाजपा भी चुनाव के यह नतीजे देखकर अचंभित है। कांग्रेस संगठन में कई तरह की कमजोरियां रही हैं, जिन्हें दूर करने की जरूरत है और इस पर अगले हफ्त बंद कमरे में बैठकर मंथन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि नेताओं ने जिम्मेदारी के साथ काम किया, जिनसे संगठन को कोई गिला नहीं, लेकिन यह भी साफ है कि निचले स्तर पर कई जगह पार्टी के बूथ तक नहीं लगे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को कोसते हुए राठौर ने कहा कि यह जीत जयराम ठाकुर की नहीं, बल्कि मोदी की जीत है, इसलिए जयराम ठाकुर अपना अहम छोड़ें और कांग्रेस नेताआें के खिलाफ बोलने से परहेज करें। उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा कांग्रेस को गांधी परिवार  से जोड़ती रही है, लेकिन अब वह खुद क्या कर रहे हैं, जो सिर्फ मोदी-मोदी बोला जा रहा है। एक व्यक्ति विशेष की पूजा भाजपाई भी कर रहे हैं।

प्रत्याशियों से पूछी हार की वजह

राठौर ने कहा कि उन्होंने चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों को पत्र लिखकर उनसे पूछा है कि उनकी हार के पीछे क्या कारण रहे और कहां उन्हें कमियां दिखीं। इनकी रिपोर्ट के आधार पर आगे कदम उठाया जाएगा। पर्यवेक्षक भी इस संबंध में अपनी रिपोर्ट देंगे। अगले सप्ताह पार्टी की प्रभारी आएंगी, जिनके सामने पूरी बात की जाएगी। आत्मचिंतन की जरूरत है।

संगठन में बदलाव जल्द

प्रदेशाध्यक्ष ने साफ कहा कि जिस भी पदाधिकारी ने काम नहीं किया है, उनको संगठन से हटाया जाएगा। पदाधिकारियों की शिकायतें भी उनके पास हैं, लिहाजा इसी आधार पर संगठन में बदलाव भी जल्द होगा।

You might also like