एक पर्यटक की मौत, पांच लापता

किन्नौर में खराब मौसम में फंसे थे 20 सैलानी; एक जख्मी, 14 बचाए

 रिकांगपिओ, सांगला -किन्नौर की चोटियों पर ट्रैकिंग के लिए पहुंचे 20 पर्यटकों में एक की मौत हो गई है, जबकि एक गंभीर रूप से घायल हो गया। वहीं, इनमें 14 लोग सुरक्षित जगह पहुंचाए गए हैं, जबकि पांच लापता हैं। जानकारी के मुताबिक सात सदस्यीय दल रोहडू से और 13 सदस्यीय दल देहरादून से किन्नौर की पहाडि़यों के लिए टै्रकिंग पर निकला था। इसके बाद बिगड़े मौसम के चलते ये सैलानी बर्फबारी और धुंध में फंस गए। पांच पुरुष और दो महिलाआें का सात सदस्यीय पश्चिमी बंगाल का दल शुक्रवार को पानीमूल के पास फंस गया। इस दौरान इनमें से एक पयर्टक की मौत हो गई, जबकि एक व्यक्ति गंभीर घायल हो गया। इसके बाद शनिवार को स्थानीय लोगों की मदद से शव और अन्य छह पर्यटकों को शागोदेंन पहुंचाया गया। इनमें से एक घायल पर्यटक को हेलिकाप्टर से रेस्क्यू कर सांगला पहुंचाया गया। इसके बाद इसे चंडीगढ़ रैफर कर दिया गया। वहीं, 13 सदस्यीय दल देहरादून से ट्रैकिंग करते हुए किन्नौर की ओर आते वक्त बर्फबारी में फंस गया। इसके सात लोग रेस्क्यू किए गए, जबकि पांच लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं। एसडीएम कल्पा एवं जिला पर्यटन अधिकारी सुरेंद्र ठाकुर ने बताया कि जानकारी मिलते ही रेस्क्यू टीम घटनास्थल के लिए रवाना कर दी गई हैं। मृतक की पहचान पश्चिमी बंगाल निवासी जिवाशीष महंतू के रूप में हुई है। उधर, तहसीलदार सांगला ने बताया कि लापता पांच पयर्टक का पता चल गया, लेकिन अभी तक उन्हें रेस्क्यू नहीं किया गया है। आईटीबीपी के जवान और प्रदेश पुलिस इनको सुरक्षित जगह लाने की तैयारी कर रही है।

You might also like