एचआरटीसी की 233 बसें चुनाव के लिए बुक

मंडी -हिमाचल में लोकसभा के अंतिम चरण के चुनाव 19 मई को होने वाले हैं। ऐसे में चुनाव के दौरान ड्यूटी लगने वाले कर्मचारियों, इलेक्ट्रिॉनिक वोटिंग मशीन, वीवीपैट को पोलिंग स्टेशन तक पहुंचाने के लिए परिवहन निगम की 233 बसें बकु कर ली हैं। इसलिए 17 व 19 मई को लोगों को बस से सफर करने के लिए मशक्कत करनी पड़ सकती है, क्योंकि मंडी और सुंदरनगर डिपो से ही 50 से ज्यादा बसें चुनाव  के लिए बुक की गई हैं। चुनाव आयोग ने मंडी और कुल्लू जिला के लिए 17 मई रवानगी के लिए 233 और 19 मई को वापसी के लिए 237 बसें बुक करवाई हैं। मंडी डिपो की सबसे ज्यादा 53 बसें चुनाव के लिए बुकिंग में हैं। इसके अलावा सुंदरनगर की 55, सरकाघाट और धर्मपुर की 36, कुल्लू की 52 और केलांग डिपो की 17 बसें बुक की गई हैं। ऐसे में 17 मई और चुनाव के दिन 19 मई को कहीं भी सफर करने से पहले बस स्टैंड से बसों की जानकारी जरूर जुटा लें। हालांकि चुनाव के दिन तो लोग कम ही सफर करते हैं, लेकिन 17 मई को बसों की बुकिंग होने से जरूर लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। फिलहाल चुनाव आयोग को दी गई बसों का कितना पैसा परिवहन निगम वसूलने जा रहा यह पता नहीं है। निगम के अधिकारियों का कहना है कि चुनाव के बाद ही भाड़े की केलकुलेशन की जाएगी। इसके बाद चुनाव आयोग को किराए के बिल थमाए जाएंगे। 17 मई और 19 मई को बसों में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं हुई है। केवल केलांग डिपो से ही 19 मई को चार बसें अतिरिक्त बुक की गई हैं। अब 17 और 19 मई को घर से निकलने से पहले बसों की जानकारी जरूर जुटा लें और 19 मई को कहीं भी जाने से पहले वोट जरूर दें। उधर, एएन सलारिया, मंडलीय प्रबंधक, एचआरटीसी का कहना है कि चुनाव आयोग को 17 मई के लिए 233 और 19 मई के लिए 237 बसें दी गई हैं। तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

लोकल रूट हो सकते हैं प्रभावित

चुनाव आयोग ने 17 और 19 मई को जितनी बसें बुक करवाई हैं, उनसे लोकल रूट सबसे ज्यादा प्रभावित हो सकते हैं। जानकारी के अनुसार लोकल रूट की उस समय की बसें ही चुनाव आयोग को दी गई हैं, जिन्में सवारियां थोड़ी कम रहती हैं।

 

 

You might also like