एचआरटीसी से रिटायर्ड कर्मी बेगाने

निगम प्रबंधन कर मांगो और समस्याओं की कर रहा अनदेखी, सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण संघ के सदस्यों ने बैठक के दौरान जड़ा आरोप

चंबा -एचआरटीसी सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण मंच की बैठक का आयोजन गुरुवार को पुराने बस अड्डा परिसर में किया गया। बैठक की अध्यक्षता मंच के प्रधान दीवान चंद ठाकुर ने की। बैठक में परिवहन निगम से सेवानिवृत्त कर्मचारियों की मांगों व समस्याओं पर चर्चा कर भविष्य की रणनीति तय की गई। बैठक में वक्ताओं ने आरोप लगाया कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों की मांगों व समस्याओं को लेकर निगम प्रबंधन गंभीरता नहीं दिखा रहा है। वक्ताओं ने निगम से वर्ष 2016 में सेवानिवृत्त कर्मचारियों को ग्रेच्युटी व लीवएनकैशमेंट जैसे वित्तीय लाभ नहीं मिल पाए हैं। वक्ताओं ने कहा कि डेढ़ वर्ष के भीतर सेवानिवृत्त कर्मचारियों को पेंशन नहीं लग पाई है। महंगाई व चिकित्सा भत्ते की अदायगी भी नहीं हो पा रही है। जिससे सेवानिवृत्त कर्मचारियों को महंगाई के इस दौर में परिवार का पालन-पोषण करने में मुश्किलें पेश आ रही हैं। वक्ताओं ने कहा कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों को अपने पैसे को ही निगम प्रबंधन से भीख की तरह मांगना पड़ रहा है, जिससे सेवानिवृत्त कर्मचारियों में निगम प्रबंधन के प्रति खासी नाराजगी देखने को मिल रही है। वक्ताओं ने साथ ही 65 से 75 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके पेंशनरों की पेंशन में पांच से पंद्रह फीसदी बढ़ोतरी की मांग भी उठाई है। वक्ताओं ने मुख्यमंत्री व परिवहन मंत्री और निगम प्रबंधन से जल्द सेवानिवृत्त कर्मचारियों के लंबित वित्तीय लाभों की जल्द अदायगी कर राहत प्रदान करने की गुहार लगाई है, जिससे उन्हें परिवार के पालन-पोषण में दिक्कतें न पेश आएं। बैठक में सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण मंच के उपाध्यक्ष भूपेंद्र सिंह जसरोटिया, शक्ति प्रसाद, जय चंद, कस्तूरी लाल, प्रकाश चंद, चतर सिंह, नरैणी देवी, टेक चंद, रमेश, कर्म चंद, प्यारे लाल, गंगू राम व अश्वनी कुमार आदि मौजूद रहे।

You might also like