एचपीसीए को कंपनी से सोसायटी बनाएं

मनाली  —हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के पूर्व महासचिव गौतम ठाकुर ने हमीरपुर के सांसद एवं एचपीसीए के महानिदेशक को नसीहत देते हुए कहा कि पूरे देश ने नरेंद्र मोदी के भारत भ्रष्टाचार मुक्त हो, के आह्वान पर आज भाजपा के प्रत्याशियों ने जीत हासिल की है। हालांकि प्रेम कुमार धूमल ने भी अनुराग ठाकुर को ईमानदारी से काम करने की सलाह दी है। वह भी दिल से चाहते हैं कि अनुराग ठाकुर एचपीसीए को पुनः कंपनी से सोसायटी में बदलें। गौतम ठाकुर ने कहा कि अब एचपीसीए एक निजी कंपनी है, जिसमें महानिदेशक अनुराग ठाकुर तथा निदेशक उनके छोटे भाई अरुण ठाकुर हैं। आज तक बीसीसीआई द्वारा दी गई दो अरब रुपए की मदद से बनाए गए तीन स्टेडियम धर्मशाला, बिलासपुर तथा अमृतसर और धर्मशाला स्थित पांच सितारा होटल बनाने में आर्थिक मदद दी है। भाजपा द्वारा एचपीसीए को मुफ्त में दी गई अरबों रुपए की जमीन के मालिक भी आप दोनों ही हैं। उन्होंने कहा कि आप लोगों के अलावा एचपीसीए में किसी भी जिला के क्रिकेट संघ का सदस्य एचपीसीए का अध्यक्ष नहीं बन सकता। पहले तो अनुराग ठाकुर अकसर यह कहा करते थे कि कांग्रेस सरकारें एचपीसीए को हड़पना चाहती हैं। अब तो प्रदेश में एक ईमानदार मुख्यमंत्री काबिज हैं और आप ही की पार्टी की सरकार। उन्होंने सवाल उठाया है कि कहीं ऐसा तो नहीं कि उन्हें ऐसे ईमानदार मुख्यमंत्री पर भी भरोसा नहीं। उन्होंने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से अनुरोध किया है कि यदि एक महीने के भीतर अनुराग ठाकुर एचपीसीए कंपनी को सोसायटी एक्ट के तहत पंजीकृत नहीं करवाते हैं, तो सरकार एचपीसीए को दी गई सारी भूमि वापस ले। अनुदान में दी गई भूमि अनुराग ठाकुर और अरुण ठाकुर की कंपनी को पैसे कमाने के लिए नहीं दी गई थी, बल्कि प्रदेश में क्रिकेट को बढ़ावा देने हेतु दीगई थी।

एचपीसीए को अपनी जागीर न समझें

एचपीसीए के पूर्व महासचिव गौतम ठाकुर ने कहा कि अनुराग ठाकुर और अरुण ठाकुर एचपीसीए को अपनी जागीर न समझें। इसे पुनः पहले की तरह सोसायटी एक्ट 1860 के तहत बदलकर हम सभी बारह जिलों के साथ न्याय कर हमें भी कहीं एचपीसीए में स्थान दें।

You might also like