एबीवीपी ने की सांकेतिक भूख हड़ताल शुरू

नालागढ़—एबीवीपी नालागढ़ इकाई ने निराशाजनक परीक्षा परिणामों पर चिंता जताते हुए विद्यार्थियों को दाखिला लेने में आ रही परेशानी पर सांकेतिक भूख हड़ताल शुरू कर दी है। एबीवीपी ने विवि प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और विवि प्रशासन से छात्र हित में परीक्षा परिणाम को दुरुस्त बनाने की पूरजोर मांग उठाई। दो बार प्रिंसीपल के माध्यम से एबीवीपी ने ज्ञापन सौंपते हुए छात्र हित में परीक्षा परिणाम को दुरुस्त करने की मांग उठाई, लेकिन यह मांग पूरी न होने पर मंगलवार को एबीवीपी ने यह सांकेतिक भूख हड़ताल शुरू कर दी है। विद्यार्थी परिषद का कहना है कि यदि जल्द ही विवि प्रशासन ने रिजल्ट को ठीक नहीं किया तो एबीवीपी पूरे प्रदेश में छात्रों को लामबद करके प्रदेशव्यापी आंदोलन शुरू करेगी। सांकेतिक भूख हड़ताल में गुरविंदर सिंह, जसप्रीत सिंह, राजीव, पवन, जागृति, तारा, बाला, प्रीति, अंजलि ठाकुर, सुभान खान, रंजना, विवेक, सीमा, शिवालिका, अंजना, टिवंकल, रमन, तरुण, कंचन, श्रुति देवी आदि उपस्थित रहे। एबीवीपी के कैंपस अध्यक्ष जसप्रीत सिंह व उपाध्यक्ष गुरविंदर सिंह ने कहा कि विवि प्रशासन द्वारा यूजी कक्षाओं के परिणाम निराशाजनक है और प्रदेश का रिजल्ट 90 फीसदी घोषित किया गया है, जिसमें 10 फीसदी छात्र ही पास है। उन्होंने कहा कि परीक्षा परिणाम में गणित विषय में करीब 90 फीसदी विद्यार्थियों के फेल किए गए है, जो कि तर्कसंगत नहीं है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी परिषद की इन मांगों को जल्द से जल्द पूरा नहीं किया गया तो एबीवीपी पूरे प्रांत में छात्रों को एकत्रित करके प्रदेशव्यापी आंदोलनकरने को बाध्य होगी। कालेज प्राचार्य डा. अनिल रतन वर्मा ने कहा कि विद्यार्थी परिषद की मांगों पर उन्होंने विवि के परीक्षा नियंत्रक जेएस नेगी से बात की, जिस पर उन्होंने दो दिन में इस समस्या के समाधान की बात कही है।

You might also like