एलआईसी हाउसिंग फाइनांस को 693.58 करोड़ मुनाफा

मुंबई – एलआईसी हाउसिंग फाइनांस ने 31 मार्च, 2019 को समाप्त हुए वर्ष के लिए अपने ऑडिट किए गए वित्तीय नतीजों की घोषणा की है। कंपनी ने मुंबई में आयोजित बैठक में नतीजों को लेकर निदेशक मंडल के अनुमोदन के बाद इस बारे में बताया। 31 मार्च, 2019 को समाप्त तिमाही के दौरान कुल संवितरण सात फीसदी की वृद्धि के साथ 17402 करोड़ रुपए से बढ़कर 18649 करोड़ हो गया। इसमें से व्यक्तिगत होम लोन सेग्मेंट में संवितरण ने 18 फीसदी की वृद्धि दर्ज की। इससे संवितरण 10541 करोड़ से बढ़कर 18448 करोड़ हो गया, जबकि वित्तीय वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में परियोजना ऋण में कुल संवितरण 2031 करोड़ रुपए रहा। वित्तीय वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में परिचालन से कंपनी का कुल राजस्व 20 फीसदी बढ़ा, जिससे यह 3888 करोड़ रुपए से 4655 करोड़ रुपए हो गया। शुद्ध ब्याज आय 1201 करोड़ रुपए रही, जबकि पिछले वर्ष पिछले वर्ष की इसी अवधि के लिए यह 989 करोड़ रुपए थी। इस तरह इसमें 21 फीसदी की वृद्धि हुई। तिमाही के लिए कर पूर्व लाभ 986.24 करोड़ रुपए रहा। पिछले वर्ष की इसी अवधि के लिए 813.62 करोड़ रुपए की तुलना में इसमें 21 फीसदी वृद्धि दर्ज की गई। एलआईसी हाउसिंग फाइनांस के प्रबंध निदेशक और सीईओ विनय शाह ने कहा, वित्तीय सेक्टर में गंभीर चुनौतियों के बावजूद कंपनी ने वित्त वर्ष 2019 में अपनी विकास की रफ्तार को कायम रखाप् सभी मापदंडों में निरंतर सुधार हुआ है। 

You might also like