एसटी-ओबीसी के छात्रों को फ्री शिक्षा का सुनहरी अवसर

नाहन—हिमालयन गु्रप ऑफ प्रोफेशनल इंस्टीच्यूट एवं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा अनुसूचित जाति एवं अन्य पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों के लिए फ्री कोचिंग देने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए। इसमें अनुसूचित जाति एवं अन्य पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों को जेईई एवं सी-मैट के लिए फ्री कोचिंग प्रदान की जाएगी, जिसकी अवधि 10 माह होगी। इस योजना के तहत 50 जेईई एवं 50 सी-मैट, जिसमें जेईई कोर्स के लिए अनुसूचित जाति के लिए 35 सीट एवं अन्य पिछड़े वर्ग 15 सीट तथा सी-मैट कोर्स के लिए भी अनुसूचित जाति 35 सीट एवं अन्य पिछड़े वर्ग के लिए 15 सीटें होगी। यह योजना हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर के उन विद्यार्थियों के लिए होगी, जिनके परिवार की वार्षिक आए छह लाख रुपए से ज्यादा नहीं है। यह जानकारी हिमालयन गु्रप के वाइस चेयरमैन विकास बंसल ने दी। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत आने वाले नाहन ब्लॉक के विद्यार्थियों को 2500 तथा जिला सिरमौर के अन्य ब्लॉक के विद्यार्थियों को पांच हजार रुपए प्रतिमाह भत्ता दिया जाएगा, जो सीधा उनके खाते में ट्रांसफर होगा। उन्होंने बताया कि 27 मई तक इस कोचिंग के लिए रजिस्ट्रेशन होंगे और 28 मई को हिमालयन गु्रप के नाहन कार्यालय में काउंसलिंग होगी तथा पहली जून से कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। उन्होंने अनुसूचित जाति एवं अन्य पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों से आग्रह किया कि वह इस अवसर का फायदा अवश्य उठाएं।

You might also like