औषधीय पौधों पर बांट रहे ज्ञान

मंडी—राजकीय वल्लभ महाविद्यालय में छात्रों व अन्य को औषधीय और सजावटी पौधों पर सात दिन तक ज्ञान बांटा जाएगा।वल्लभ कालेज मंडी में मंगलवार को सात दिवसीय नर्सरी एंड गार्डनिंग कार्यशाला का शुभारंभ किया गया। इसमें क्लस्टर विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर डा. सीएल चंदन ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। वल्लभ कालेज के प्राचार्य डा. राकेश शर्मा बतौर विशेषातिथि मौजूद रहे। कार्यशाला में रिटायर्ड डीएफओ कमल किशोल ठाकुर और डा. सुचंद्रा दत्ता असिस्टेंट प्रोफेसर नेशनल कालेज बांद्रा ने छात्रों को व्याख्यान दिए। वर्कशॉप का आयोजन वल्लभ कालेज के बॉटनी विभाग और वन विभाग के संयुक्त तत्त्वावधान से किया जा रहा है। इस दौरान  वल्लभ कालेज की बॉटनी विभागाध्यक्ष तारा सेन ठाकुर ने बताया कि कार्यशाला में विद्यर्थियों को तो लाभ मिलेगा ही, साथ ही अध्यापकों को भी महत्त्वपूर्ण जानकारी मिलेगी। कार्यशाला में क्लस्टर विश्वविद्यालय के वीसी डा. सीएल चंदन और वल्लभ कालेज प्राचार्य डा. राकेश शर्मा ने भी विचार रखे। यह वर्कशाप 21 मई तक चलेगी और इसमें करीब 200 लोग भाग ले रहे हैं। इसमें प्रतिभागी बरोट, पराशर, थुनाग, जंजैहली, शिकारी देवी, करसोग और देवीदहड़ जाकर औषधीय पौधों को एकत्रित करेंगे, जिससे हारबेरियम तैयार किया जाएगा। इस मौके पर प्रोफेसर अनिल ठाकुर, प्रोफेसर सीमा बावा, प्रोफेसर टीएस वर्मा, प्रोफेसर जसवंत ठाकुर, प्रोफेसर निशा वैद्य, प्रोफेसर भारती शर्मा, प्रोफेसर शकुंतला, प्रोफेसर संजय सहगल, प्रोफेसर अंजु शर्मा, प्रोफेसर अरविंद, प्रोफेसर संजीत ठाकुर, प्रोफेसर टेक सिंह, प्रोफेसर मनोज कुमार, प्रोफेसर मोनिका ठाकुर, प्रोफेसर आस्था, प्रोफेसर पूजा सहित अन्य मौजूद रहे।

You might also like