कभी बदनीयत से काम नहीं करूंगा

लगातार दूसरी बार प्रचंड बहुमत से जीतने के बाद बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली -लोकसभा चुनाव में पिछली बार से भी प्रचंड बहुमत से बीजेपी और एनडीए की सत्ता में वापसी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली स्थित बीजेपी मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। जनता को धन्यवाद देते हुए उन्होंने कहा कि 130 करोड़ हिंदुस्तानियों ने आज फकीर की झोली भर दी। लगातार दूसरी बार बहुमत मिलने को बड़ी और बढ़ी हुई जिम्मेदारी बताते हुए मोदी ने कहा कि वह बद इरादे और बदनीयत से कोई काम नहीं करेंगे। उन्होंने जोर देकर कहा कि वह खुद अपने लिए कभी भी कुछ नहीं करेंगे। मोदी ने कहा कि बीजेपी कभी दो सीटों तक सीमित थी और आज लगातार दूसरी बार पूर्ण बहुमत से सत्ता में आ रही है, लेकिन पार्टी ने न कभी संस्कार छोड़ा, न आदर्शों को छोड़ा। दिल्ली में बारिश की ओर इशारा करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि स्वयं मेघराजा भी इस विजयोत्सव में शरीक होने के लिए हमारे बीच हैं। मोदी ने कहा कि 2019 लोकसभा का जनादेश हम सब देशवासियों के पास नए भारत के लिए जनादेश लेने के लिए गए थे। आज हम देख रहे हैं कि देश के कोटि-कोटि नागरिकों ने इस फकीर की झोली को भर दिया। बीजेपी के करोड़ों कार्यकर्ताओं के परिश्रम पर इतना गर्व होता है कि जिस दल में हम हैं, उस दल में ऐसे दिलदार लोग हैं। कोटि-कोटि कार्यकर्ता सिर्फ एक ही भाव भारत माता की जय, और कुछ नहीं।

26 से है पीएम मोदी का खास कनेक्शन

लोकसभा चुनाव एक बार फिर केंद्र की सत्ता पर नरेंद्र मोदी की वापसी हुई है। ऐसे में अब सबसे ज्यादा चर्चा उनके प्रधानमंत्री पद के शपथ ग्रहण की तारीख की हो रही है। राजनीतिक गलियारे में जिस तारीख की सबसे ज्यादा चर्चा चल रही है वह है 26 मई की। कहा जा रहा है कि नरेंद्र मोदी 26 मई को प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। इस चर्चा को इस बात से भी बल मिल रहा है कि 8 अंक पीएम मोदी के लिए शुभ रहा है। बता दें कि अंक ज्योतिष की गणना के अनुसार 26 मई के अंकों का जोड़ यानी मूलांक 8 आता है। 26 अप्रैल को ही पीएम मोदी ने वाराणसी से अपना नामांकन किया था। पिछले लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी ने 26 मई को ही प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी। इसका मूलांक भी 8 है। सबसे खास बात है कि पीएम मोदी का जन्म 17 सितंबर को हुआ। 17 का भी मूलांक 8 होता है।

You might also like