कमरऊ में नाटी किंग के बेटे ने मचाया धमाल

नन्हे स्वरदीप ने पिता कुलदीप शर्मा संग बटोरी तालियां, गानों के साथ-साथ जमकर लगाए ठुमके

नाहन -प्रदेश के जाने माने नाटी किंग व हिमाचली लोक गायक कुलदीप शर्मा के बेटे मास्टर स्वरदीप शर्मा भी मात्र पांच वर्ष की उम्र में अपने पिता की तर्ज पर स्टेज परफोर्मेंस के लिए तैयार है। इसकी शुरुआत मास्टर स्वरदीप ने जिला सिरमौर के कमरऊ के एक समारोह से कर दी है। नाटी किंग कुलदीप शर्मा की नाइट में अपार श्रोताओं का जनसमूह कमरऊ में उमड़ा हुआ था। कुलदीप शर्मा के गानों के बीच जैसे ही एक पांच वर्ष का बच्चा मंच पर चढ़ा तो लोग एक बार तो अचंभित हो गए कि आखिर माजरा क्या है। जैसे ही पांच वर्षीय मास्टर स्वरदीप ने मंच पर म्यूजिक के सहयोगियों की  लहरियों के साथ माइक हाथ में थामा और गानों की बौछार शुरू की तो पूरा पंडाल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। मास्टर स्वरदीप ने अपने पिता नाटी किंग कुलदीप शर्मा के गानों को इस अंदाज में प्रस्तुत किया कि उपस्थित श्रोता देखते रह गए। रोहड़ू जाणा मेरी आमिये, टेंशन नहीं लेने का टेंशन तो देने का, बिंदिए जीया लाला, कानो री बाली आदि पहाड़ी गानों की प्रस्तुति से उपस्थित श्रोताओं को झूमने पर मजबूर कर दिया। मास्टर स्वरदीप ने गानों की प्रस्तुति के साथ-साथ मंच पर जमकर ठुमके भी लगाए, जिसके बाद उपस्थित पुरुष-महिलाओं ने स्वरदीप पर मानों नोटों की बारिश कर दी। नाटी किंग कुलदीप शर्मा व बीना शर्मा के पांच वर्षीय पुत्र स्वरदीप वर्तमान में पांवटा साहिब स्थित दि स्कॉलर होम स्कूल में केजी कक्षा का छात्र है। अपने पिता कुलदीप शर्मा को मंच पर परफोर्मेंस देखते हुए स्वरदीप भी मात्र तीन वर्ष से ही मंच पर चढ़ना शुरू हो गया था तथा अपने पिता के साथ कई कार्यक्रमों में मंच पर डांस करने के लिए दौड़ पड़ता था, परंतु गत करीब दो वर्ष से कुलदीप शर्मा बकायदा अपने बेटे स्वरदीप को संगीत की बारीकियां सिखा रहे हैं। कुलदीप शर्मा के मुताबिक मास्टर स्वरदीप शर्मा में भी स्टेज पर परफोर्मेंस का जुनून सवार है। कुलदीप के मुताबिक वह अपने बेटे को पहले संगीत की तमाम तकनीकी जानकारियां देना चाहते हैं, ताकि आगे चलकर स्वरदीप गायकी के क्षेत्र में हिमाचल का नाम कमा सके। कुलदीप शर्मा ने बताया कि स्टेज पर गाने की कला गिने-चुने लोगों को ही गॉड गिफ्ट होती है जिसमें वह स्वयं भी है। कुलदीप ने बताया कि वह संगीत के बारे में तकनीकी तौर पर प्रशिक्षित नहीं हैं, परंतु उन्हें गायकी गॉड गिफ्ट है। अपने बेटे को वह पहले पूर्ण रूप से तकनीकी तौर पर परिपक्व बनाना चाहते हैं उसके बाद मंच पर प्रस्तुतियों का सिलसिला जारी रखा जाएगा। गौर हो कि नौ जून को नाहन में विभिन्न समाजसेवी संस्थाओं द्वारा किडनी के मरीजों की मदद के लिए एक स्टेज शो कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इस म्यूजिक कार्यक्रम में भी नाटी किंग कुलदीप शर्मा के बेटे मास्टर स्वरदीप शर्मा को विशेषतौर पर आमंत्रित किया गया है। कुलदीप शर्मा व बीना शर्मा को उम्मीद है कि उनका बेटा भी गायकी में हिमाचल का नाम रोशन करेगा।

 

You might also like