कश्मीर राजमार्ग दूसरे दिन भी बंद, लेह-मुगल रोड पर एकतरफा यातायात

 

कश्मीर राजमार्ग दूसरे दिन भी बंद, लेह-मुगल रोड पर एकतरफा यातायात

जम्मू-कश्मीर में तीन सौ किलोमीटर लंबा श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग में भूस्खलन और लगातर पत्थरों गिरने के कारण शुक्रवार को दूसरे दिन भी बंद रहा। लद्दाख क्षेत्र को कश्मीर घाटी से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग और 86 किलोमीटर लंबा ऐतिहासिक मुग़ल रोड पर हालांकि एक ओर से वाहनों की आवाजाही जारी है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि डिगडोर तथा रामवन के अन्य जगहों पर बुधवार शाम भूस्खलन होने के बाद राजमार्ग को बंद कर दिया गया, जिसके कारण कश्मीर की ओर जाने वाले तीन हजार से अधिक वाहन राजमार्ग पर फंसे हुए हैं। इन वाहनों में यात्री वाहनों के अलावा ट्रक और तेल के खाली टैंकर शामिल हैं। 
सूत्रों ने बताया कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) और सीमा सड़क संगठन अत्याधुनिक मशीनों तथा श्रमिकों की सहायता से राजमार्ग पर पड़े भूस्खलन के मलबे को हटाने के काम में जुटा हुआ है। सूत्रों के अनुसार लगातार पत्थरों के गिरने के कारण हालांकि भूस्खलन के मलबे को हटाने में बाधा उत्पन्न हो रही है। सूत्रों ने बताया कि राजमार्ग से लगभग 70 प्रतिशत मलबे को हटा लिया गया है। सूत्रों के अनुसार राजमार्ग के खुलने के बाद पहले फंसे हुए वाहनों के परिचालन की अनुमति दी जाएगी। 
यातायात विभाग के एक अधिकारी ने यूनीवार्ता को बताया लद्दाख क्षेत्र को कश्मीर घाटी से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग पर सिर्फ एक ओर से वाहनों का परिचालन हो रहा है। उन्होंने बताया कि आज सिर्फ कश्मीर के वाहनों को परिचालन की अनुमति होगी। उन्होंने बताया कि छोटे वाहन सुबह सात बजे से पूर्वाहन 10 बजे तक लद्दाख क्षेत्र के मिनीमर्ग से कश्मीर घाटी की ओर रवाना होंगे, जबकि बड़े वाहनों को पूर्वाहन 10 बजे से अपराह्न एक बजे तक परिचालन की इजाजत दी जाएगी। इस अवधि के बाद किसी भी वाहन के परिचालन की अनुमति नहीं दी जायेगी।उन्होंने बताया कि दक्षिण कश्मीर के शोपियां को जम्मू क्षेत्र में राजौरी और पुंछ से जोड़ने वाले ऐतिहासिक मुगल रोड पर सिर्फ एक ओर से वाहनों को चलने अनुमति होगी। उन्होंने बताया कि बेहरामगल्ला से शोपियां के बीच आज सुबह छह बजे से अपराह्न तीन बजे तक वाहन चलेंगे। 

 

You might also like