कार्ड बदलकर ठगी करना पड़ा महंगा

सेक्टर-10 क्राइम ब्रांच ने दबोचे दो आरोपी, गु्रप में करते थे लोगों से धोखाधड़ी

गुरुग्राम – सेक्टर-10 क्राइम ब्रांच ने कार्ड से ठगी करने वाले दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में दोनों ने बताया कि कुछ दिनों तक उन्होंने अपने एक परिचित से कार्ड बदलकर ठगी करने की ट्रेनिंग ली। इस दौरान उन्हें रोज 2000 रुपए मिला करते थे। ठगी में ट्रेंड होने के बाद दोनों ने अपना गैंग बनाकर लाखों की रोजाना कमाई करने लगे। दोनों के पास से एक मारुति रिट्ज कार, छह एटीएम और आठ हजार रुपए कैश भी बरामद किया गया। पुलिस के अनुसार सात मई को सेक्टर-10ए थाना एरिया में मितलेश नामक युवती के साथ ठगी की वारदात हुई थी। उसका कार्ड बदल खाते से करीब 30 हजार रुपए निकाल लिए गए थे। सेक्टर-10 क्राइम ब्रांच की टीम ने जांच की, जिसके बाद गुरुवार को दो आरोपितों को कादीपुर चौक के पास से काबू किया गया। आरोपितों की पहचान पलवल के गांव गुडावली निवासी सब्बीर व गांव उठावड़ निवासी शरफुद्दीन उर्फ शरफू के तौर पर हुई। पूछताछ में आरोपितों ने खुलासा किया कि वे लोगों से तीन से पांच के गु्रप में मिलते थे। एटीएम में मौजूद व्यक्ति के साथ ठगी की वारदात के दौरान कोई एटीएम का पिन याद कर लेता, तो कोई स्क्रीन पर खाते में बैलेंस पर नजर रखता। फिर धोखे से टक्कर मारकर या अन्य तरीके से कार्ड बदल देते। आरोपितों के अनुसार इनके गांव व आसपास के गांवों के काफी युवक इसी तरह की ठगी करते हैं। पुराने लोग नए युवकों को ट्रेनिंग के लिए साथ लाते हैं। सिर्फ साथ रहने के हर दिन के दो हजार रुपए मिलते हैं। कुछ दिन तक तरीके सीखने के बाद ये नए युवक अपना गु्रप बनाकर वारदात करने लगते। खाते से रुपए निकाल महंगे कपड़े, जूते खरीदते व खाने-पीने के शौक पूरा करते। आरोपितों ने सेक्टर-56 थाना एरिया में इसी महीने में दो वारदात, पालम विहार एरिया में दो वारदात, डीएलएफ फेज-3 व सेक्टर-5 एरिया में एक-एक वारदात को अंजाम देना कबूल किया है। सेक्टर-10 क्राइम ब्रांच  के जितेंद्र, इंस्पेक्टर ने कहा कि कादीपुर चौक से दोनों बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है। कोर्ट के आदेश पर उन्हें भोंडसी जेल भेजा गया है।

You might also like