कालका-शिमला एनएच-पांच पर जाम से छुटकारा

सोलन—कालका-शिमला नेशनल हाई-वे पांच पर शनिवार को अधिक ट्रैफिक के चलते फोरलेन का कार्य बंद रहा। इसके चलते लोगों को काफी हद तक जाम की समस्या से छुटकारा मिला है। हालांकि सुबह फोरलेन कार्य के चलते हाई-वे पर थोड़ी देर के लिए जाम लगा था जिसके पश्चात हाई-वे पर अधिक ट्रैफिक को देखते हुए फोरलेन निर्माता कंपनी द्वारा कई जगहों पर काम नहीं किया। ध्यान रहे कि कालका-शिमला नेशनल हाई-वे पांच पर परवाणू से सोलन(चंबाघाट) तक फोरलेन निर्माण कार्य तेजी से चल हुआ है। कार्य समय पर पूरा हो इसके लिए फोरलेन निर्माता कंपनी द्वारा पहाड़ों पर पीला पंजा चला रखा है। वहीं, हाई-वे पर कई ऐसी जगह है जहां सड़क कटिंग के चलते तंग है। इस कारण वहां पर कई बार जाम की स्थिति बन जाती है। लेकिन मौके पर फोरलेन निर्माता कंपनी की ट्रैफिक टीम सहित पुलिस प्रशासन की टीम मौजूद जाम को अधिक नहीं होने दे रही है। दूसरी ओर शनिवार व  रविवार को छुट्टी होने के चलते हाई-वे पर वाहनों की आवाजाही अधिक रही।

कंपनी ने मांगी समय बढ़ाने की परमिशन

नेशनल हाई-वे अथारिटी ऑफ इंडिया द्वारा परवाणू से सोलन (चंबाघाट) तक फोरलेन निर्माण के टेंडर राजस्थान की जीआर इन्फ्रास्टरक्चर प्रा. लिमिटेड कंपनी के नाम रहा था। इसकी कुल दूरी 39.139 किमी है और परवाणू से सोलन(चंबाघाट) तक लगभग 7.48 करोड़ रुपए की राशि अवार्ड की गई थी। परवाणू से सोलन (चंबाघाट) तक फोरलेन बनाने का कार्यकाल अढ़ाई वर्ष था। कंपनी का यह कार्यकाल पिछले वर्ष मार्च माह में पूरा हो चुका है। अब कंपनी द्वारा समय को बढ़ाने की मांग की है। बताया जा रहा है कि कंपनी द्वारा 25 मार्च 2020 तक कार्य पूरा करने के लिए फाइल एनएचएआई को सौंपी है।

You might also like