किन्नौर में पारा क्लीन बोल्ड

बारिश के बाद तापमान में जोरदार गिरावट,लोगों की फिर से बढ़ने लगी मुश्किलें

रिकांगपिओ -मौसम में आइ बदलाब के साथ प्रदेश का जनजातीय क्षेत्र जिला किन्नौर में पारा तेजी से नीचे लुढ़कने लगा है। शुक्रवार देर शाम से ही किन्नौर जिला के ऊंची पहाडि़यों पर बर्फ  पड़ने के साथ-साथ आवादी वाले क्षेत्रों में तेज बारिश का दौर देखा जा रहा है। शुक्रवार शाम से जारी मौसम का यह रुख शनिवार को भी पूरे दिन रुक-रुक कर जारी रहा।  किन्नौर जिला के निचले व मध्यम इलाकों में शुक्रवार रात को हुए तेज बारिश के कारण लोगों को किसी बड़े नुकसानी का डर सताने लगा था लेकिन अब तक किसी भी जगह से किसी बड़े नुकसान की सूचना नहीं है। मौसम में आइ इस बदलाब के कारण किन्नौर के ऊंचे पहाड़ एक बार फिर से सफेद चादर में लिपटने से आबादी वाले इलाकों में ठंड का प्रकोप भी काफी ज्यादा बढ़ गया है। लोगों को एक बार फिर गर्म वस्त्र पहनने को मजबूर होना पड़ रहा है। लोगों को रात में रजाइयां तक निकालनी पड़ गई है। किन्नौर के निचले व मध्यम इलाकों में हो रहे इस बारिश को सेब उत्पादक के लिए अब तक लाभदायक माना गया है, लेकिन ऊंचाई वाले क्षेत्रों के सेब उत्पादकों की चिंताएं बड़ा दी है। बताया जाता है कि किन्नौर के ऊंचे इलाको में इन दिनों सेब के पौधों पर फ्लावरिंग का दौर चल रहा है। इन क्षेत्रों के बागबानों को डर सता रहा है कि कई अत्यधिक ठंड सेब फ्लावरिंग पर प्रतिकूल प्रभाव न डाले।

You might also like