कैबिनेट में नड्डा, अनुराग या कपूर

संभावित केंद्रीय मंत्रिमंडल में हिमाचल की भूमिका को लेकर रोचकता

शिमला —कांगड़ा संसदीय क्षेत्र से अप्रत्याशित जीत के बाद किशन कपूर केंद्रीय मंत्री पद के दावेदार बन गए हैं। हिमाचल प्रदेश से बड़ी जीत के चलते मोदी सरकार में फिर से हिमाचल को प्रतिनिधित्व मिलना तय है। इसके लिए अब तीन नेताओं में कांटे की टक्कर रहेगी। किशन कपूर की जीत का अंतर और उनका राजनीतिक प्रोफाइल के्रदीय मंत्री पद का मजबूत दावा पेश कर रहा है। मोदी सरकार में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा भी नए मंत्रिमंडल में प्रबल दावेदार हैं। हालांकि उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने की सियासी गलियारों में चर्चा है। इसक कारण केंद्र्रीय राजनीति में जेपी नड्डा की भूमिका पर रहस्य बन गया है। ऊना में भाजपा के पक्ष में जनसभा को संबोधित करने आए राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सांसद अनुराग ठाकुर को बड़ा नेता बनोन का वादा कर गए हैं। इसके चलते मोदी के संभावित मंत्रिमंडल में अनुराग ठाकुर भी मजबूत दावेदार बन गए हैं। चर्चा यह भी हैं कि अनुराग ठाकुर केंद्रीय मंत्री न बने तो उन्हें संगठन में अहम पद मिल सकता है। लोकसभा चुनावों में भारी मतों से जीत दर्ज करने के बाद अब प्रदेश भाजपा में भी संगठनात्मक समीकरण बदल सकते हैं, जो पूरी तरह से केंद्र सरकार पर निर्भर रहेगा। नरेंद्र मोदी कैबिनेट में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को जगह मिलने की स्थिति में वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा को संगठन में बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है। भाजपा सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जगत प्रकाश नड्डा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकते हैं, वहीं दूसरी तरफ हमीरपुर संसदीय सीट से लगातार चौथी बार जीत दर्ज करने वाले अनुराग ठाकुर को केंद्र में जिम्मेदारी मिल सकती है।

You might also like