क्या सुखराम बूथ कैप्चरिंग से जीते

आश्रय शर्मा के बयान पर जयराम के मंत्रियों का पलटवार

शिमला – भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं मंत्री महेंद्र सिंह, गोविंद ठाकुर एवं राम लाल मार्कंडेय ने मंडी संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीद्वार आश्रय शर्मा द्वारा चुनाव आयोग एवं प्रदेश सरकार पर लगाए आरोपों को निराधार बताया है। उन्होंने कहा कि आश्रय को पता चल चुका है कि वह मंडी में लोकसभा चुनावों में भारी मतों से हारने वाले हैं। आश्रय केवल अपनी हार का ठीकरा चुनाव आयोग पर फोड़ रहे हैं। भाजपा नेताओं ने कहा की चुनाव 19 मई को संपन्न हो गया था तो आज तक कांग्रेस पार्टी चुप क्यों रही। क्या उन्हें 19 से लेकर अब तक चुनाव प्रक्रिया में कोई गलती नहीं मिली। आश्रय शर्मा स्पष्ट करें कि जब उनके दादा सुखराम चुनाव जीते थे तो क्या वह बूथ कैप्चरिंग द्वारा जीते थे। भाजपा नेताओं ने यह भी कहा की यह पहली बार नहीं है कि भारतीय जनता पार्टी मंडी संसदीय क्षेत्र में चुनाव जीती है। शायद आश्रय शर्मा को याद नहीं होगा कि इससे पूर्व भी कांग्रेस ने जब वीरभद्र सिंह की पत्नी को चुनावी रण में उतारा था, तो रामस्वरूप शर्मा ने उनको हराया था। उक्त नेताओं ने कहा कि इस बार लोकसभा चुनावों में पूरे देश के साथ-साथ हिमाचल प्रदेश में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रचंड लहर थी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी इन चुनावों में कड़ी मेहनत की, जिसके तहत उन्होंने पूरे प्रदेश भर में 106 रैलियां कर एक नया रिकार्ड बनाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं  मुख्यमंत्री जयराम की जनकल्याण योजनाएं एवं नीतियां से लोग प्रभावित हुए और उन्होंने इन चुनावों में बढ़-चढ़कर भारतीय जनता पार्टी के लिए मतदान किया।

You might also like