खुदाई-अतिक्रमण से सिकुड़ रही सड़कें

संगड़ाह—उपमंडल मुख्यालय संगड़ाह में निजी भवनों के निर्माण के लिए हो रही खुदाई व बढ़ते अतिक्रमण से सड़कें दिन व दिन संकरी होती जा रही हैं। आलम यह है कि संगड़ाह-पालर-राजगढ़ मार्ग पर कस्बे के दो किलोमीटर की परिधि में बसों व बड़े वाहनों को मुश्किल से निकालना पड़ता है। रविवार शाम को इस सड़क पर कफोटियो नामक जगह पर निजी भवन निर्माण कार्य के लिए जेसीबी से हो रही खुदाई के चलते नाहन-अरलू तथा संगड़ाह में चलने वाली लोकल बस को करीब दस मिनट रोकना पड़ा। इन बसों के यात्रियों तथा चालक-परिचालकों ने खुदाई के चलते बार-बार सड़कें बंद अथवा तंग होने के लिए संबंधित विभाग व स्थानीय प्रशासन के प्रति नाराजगी जताई। अतिक्रमणकारियों पर ठोस कार्रवाई न होने के चलते लोग दिन व दिन सड़कों व रास्तों पर कब्जे करने का सिलसिला जारी रखे हुए हैं। अतिक्रमण का सबसे विकराल स्वरूप हालांकि संगड़ाह-राजगढ़ मार्ग पर ही देखने को मिलता है, मगर नाहन व चौपाल की ओर जाने वाली सड़कों पर भी डेढ़ दर्जन स्थानों पर अतिक्रमण देखने को मिलता है। पालर मार्ग पर प्राइवेट निर्माण कार्यों के लिए हाल ही में जेसीबी मशीनों से हुई खुदाई व भवन निर्माण के लिए सड़क की सीमा में हुए कब्जों के चलते अधिकतर स्थानों पर गाडि़यों को पास देने व मोड़ने की जगह तक नहीं बची। इसके अलावा बस अड्डे से मिनी सचिवालय, डीएसपी कार्यालय, कन्या छात्रावास, रोजगार कार्यालय व पुलिस थाना आदि की ओर जाने वाले लिंक रोड पर जहां वाहनों की आवाजाही बंद हो चुकी है। वहीं कालेज व अस्पताल संपर्क मार्ग भी गत दशक से बढ़ रहे अवैध कब्जों के चलते केवल छोटे वाहनों के काबिल रह गए हैं। प्रदेश उच्च न्यायालय द्वारा अवैध कब्जों पर सख्त रुख अख्तियार किए जाने का असर अब तक इस क्षेत्र में देखने को नहीं मिला। पुराने एसडीएम कार्यालय संगड़ाह के पास अतिक्रमण व भू-स्खलन के चलते संगड़ाह-राजगढ़ मार्ग 35 फुट की जगह मात्र 12 फुट चौड़ा रह गया है। इस स्थान से करीब आधा किलोमीटर आगे तक आधा दर्जन अन्य लोगों द्वारा निजी भवन निर्माण के लिए सड़क पर यथासंभव कब्जे किए जा चुके हैं। एसडीएम चौक से अस्पताल जाने वाले संपर्क मार्ग के मुहाने पर सड़क की सीमा में बनाई गई एक निजी भवन की कच्ची सुरक्षा दीवार के चलते यहां से एंबुलेंस व अन्य वाहन बड़ी मुश्किल से निकाल पा रहे हैं। बस अड्डा बाजार में निजी पार्किंग, दुकानों के छज्जे, सेफ्टिक टैंक व सीढि़यां आदि के नाम पर प्रभावशाली लोग लगातार मुख्य सड़क पर अतिक्रमण जारी रखे हुए हैं। अतिक्रमण के चलते कई जगह सड़क की नालियां बंद हो चुकी हैं। लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता संगड़ाह रतन शर्मा के अनुसार सड़कों पर अवैध कब्जे करने वालों पर समय-समय पर कार्रवाई की जाती है। उन्होंने कहा कि पालर रोड पर हो रहे अतिक्रमण अथवा खुदाई का जायजा लेने तथा रोड साइड कंट्रोल एक्ट के तहत कार्रवाई करने के लिए स्थानीय कनिष्ठ अभियंता को कह दिया है।

You might also like