गगरेट के दस बूथों पर वोटिंग बढ़ाने का टारगेट

गगरेट -लोकसभा चुनावों में जिला ऊना में मत प्रतिशतता को बढ़ाने को लेकर लगातार अधीनस्थ अधिकारियों को प्रेरित कर रहे उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति के दिशा-निर्देश पर अब स्वीप कार्यक्रम के तहत उन बूथों को टारगेट किया जा रहा है जिन बूथों पर पिछले लोकसभा चुनाव में मत प्रतिशतता अपेक्षाकृत कम रहा था। विधानसभा क्षेत्र गगरेट के भी इसके तहत दस बूथ चयनित किए गए हैं जिनमें मतदान की प्रतिशतता न्यून रही थी। इसी के चलते बुधवार को खंड विकास अधिकारी हेम चंद ने स्वीप कार्यक्रम के तहत ग्राम पंचायत संघनेई के अंतर्गत आने वाले काला पंगा बूथ व संघनेई बूथ के मतदाताओं को मतदान का महत्त्व समझाते हुए अधिक से अधिक मतदान करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि इस बार हर हाल में इन बूथों पर मतदान 85 प्रतिशत से अधिक होना चाहिए। खंड विकास अधिकारी हेम चंद ने कहा कि मतदाताओं को मतदान का महत्त्व समझना होगा। लोकतंत्र के इस महापर्व में जो अपने मत का प्रयोग नहीं करेगा वह लोकतंत्र का निरादर करने के समान ही है। उन्होंने कहा कि पिछले लोकसभा चुनावों में विधानसभा क्षेत्र गगरेट के बूथ काला पंगा, संघनेई, मुबारकपुर अपर, मुबारकपुर लोअर, चलेट, गोंदपुर बनेहड़ा अपर, भद्रकाली, अंदौरा-एक व गगरेट-एक में सबसे कम मतदान प्रतिशत रिकार्ड किया गया था। इसी के चलते इन बूथों के मतदाताओं को स्वीप कार्यक्रम के अधिक से अधिक मतदान करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि दिव्यांग मतदाताओं के लिए पोलिंग बूथ पर ट्राई साइकिल की व्यवस्था होगी और दिव्यांग मतदाताओं को पहले मतदान करने में प्राथमिकता मिलेगी। शतायु मतदाताओं को भी मतदान करने में अधिमान मिलेगा। उन्होंने मतदाताओं का आह्वान किया कि पिछले लोकसभा चुनावों में उनके बूथ पर कम मतदान करने का दाग इस बार धो डालें और 85 प्रतिशत से अधिक मतदान करके इस देश को जागरूक मतदाता बने। इस अवसर पर पंचायत सचिव शैलेंद्र ठाकुर, ग्राम पंचायत प्रधान संदीप शर्मा भी मौजूद थे।

 

 

You might also like