गिरिपार की 80 पंचायतों में ब्लैक आउट

शिलाई  -मंगलवार रात्रि को गिरिपार क्षेत्र की 80 पंचायतों में बिजली आपूर्ति ठप होने से पूरी रात ब्लैक आउट रहा। क्षेत्रवासियों ने पूरी रात अंधेरे में बिताई। जहां 80 पंचायतों के लोग पूरी रात परेशान रहे, वहीं बिजली बोर्ड को भी लाखों का नुकसान हुआ। शाम साढ़े आठ बजे जैसे ही हवाएं चलना शुरू हुई तो बिजली की आंख मिचौनी भी आरंभ हुई। कुछ देर तक तो बिजली बोर्ड द्वारा बार-बार लाइन चालू करने के प्रयास किए गए, लेकिन तेज हवाओं के चलते उनकी एक न चली। नतीजतन पूरी रात  80 पंचायतों में बिजली बंद रही। तेज हवाओं के चलते मंगलवार रात्रि को पांवटा साहिब से पहाड़ी क्षेत्र में चलने वाली 33 केवी की लाइन में आई तकनीकी खराबी के चलते आंजभौज की डांडा,, राजपुरा, नघेता, कलाथा, भड़ाना सहित आठ, गिरिआर की गोरखुवाला, भंगानी, गोजर सहित चार, कुराली की छह, कमरऊ की तीन, मस्तभौज की तीन, घनद्वार की पांच, शिलाई विकास खंड की 29 और जिला शिमला की कुपवी क्षेत्र की पांच पंचायतों सहित क्षेत्र की 80 पंचायतें में बिजली पूरी रात बंद रही। इनके अतिरिक्त शिलाई, कफोटा, कमरऊ, रोनहाट, नैनीधार, बालीकोटी, टिंबी क्षेत्र में बिना बिजली के दर्जनों उठाऊ पेजजल योजनाओं में पानी लिफ्ट नहीं हो पाया, जिसकी वजह से ग्रामीणों को इस भीषण गर्मी में बुधवार को पानी भी नहीं मिल पा रहा है। उधर, इस संबंध में अधिशाषी अभियंता बिजली बोर्ड मंडल पांवटा साहिब दर्शन सिंह ठाकुर ने बताया कि तेज आंधी से पांवटा से चलने वाली 33 केवी की लाइनों की तारें उलझ गई, जिसकी वजह से पूरे क्षेत्र की बिजली ठप रही। उन्होंने बताया कि बुधवार सुबह लाइनों की मरम्मत कर विद्युत आपूर्ति बहाल कर दी गई है।

 

You might also like