गुरु जी डलवाएंगे वोट…बच्चे खाना खाकर घर को लगाएंगे दौड़

जिला के कई स्कूल मिड-डे मील कर्मचारियों के हवाले, अकेले सलूणी ब्लॉक के 19 स्कूल बिना शिक्षकों के

चंबा –पहले से शिक्षकों की कमी से जूझ रहे पहाड़ी जिला चंबा के कई स्कूल चुनावों तक मिड-डे मील एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मी के सहारे चलेंगे। प्रदेश में 19 मई को होने वाले 17वीं लोकसभा के चुनावों को लेकर लगाई गई शिक्षकों की ड्यूटी के चलते जिला चंबा के कई स्कूल शिक्षक के बिना ही रह गए हैं, लिहाजा अब इन स्कूलों मेंं आगामी दो-तीन दिनों तक छात्र मीड-डे मील खाने के बाद वापस घर लौट आएंगे। पहले से ही स्कूलों में तैनात सिंगल शिक्षक की ड्यूटी भी इलेक्शन में लगाई गई है। साथ ही कई स्कूलों में सेवाएं दे रहे दो से अधिक शिक्षकांे की ड्यूटी भी चुनावांे में लगा दी गई है, जिसके चलते स्कूल मंे एक भी शिक्षक नहीं बचा है। हालांकि शिक्षा विभाग की ओर से सरप्लस शिक्षकों को डिप्यूट कर कई ब्लॉकों में शिक्षक पूरे कर दिए हैं, लेकिन कई ब्लॉक ऐसे हैं जहां शिक्षकांे की भारी कमी खल रही है। इन ब्लॉकों में यहां-वहां से एडजस्टमेंट करने के बाद भी शिक्षक पूरे नहीं हो पाए हैं। अकेले सलूणी ब्लॉक की बात करें तो 19 स्कूलों के लिए शिक्षक उपलब्ध नहीं हो पाए हैं। लिहाजा अब इन स्कलों में मिड-डे मील कर्मी एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मी ही दो दिनों तक स्कूल चलाएंगे। उधर, विभागीय अधिकारी कहते है कि उन्होंने इसे लेकर पहले ही प्रशासन एवं विभाग को अवगत करवा दिया बावजूद इसके भी कई जगह ड्यूटी में फेरबदल नहीं किया गया है। चुनावों में लगी शिक्षकों की ड्यूटी के चलते स्कूल में शिक्षक न रहने पर अभिेभावक सहित कई बुद्धिजीवी वर्ग सवाल खड़े कर रहे हैं।

You might also like