चाणक्य के 33 होनहारों ने पास की पीयूसीईटी

हमीरपुर —अपने कुशल प्रबंधन और हाई क्वालिफाई शिक्षकों की बदौलत छात्रों को इंजीनियरिंग, मेडिकल, डिफेंस और सिविल सर्विसिस समेत हर फील्ड के लिए तैयार करने वाली चाणक्य अकादमी के 33 होनहारों ने इस बार पीयूसीईटी 2019 स्नातक प्रवेश परीक्षा में बेहतर रैंक हासिल करते हुए सफलता हासिल की। संस्थान के शिवम शर्मा ने ऑल इंडिया स्तर पर उक्त परीक्षा मेें 95.6 परसेंटाइल हासिल कर पहला स्थान हासिल किया है। संस्थान के छात्र मयंक चंदेल ने भी 95.5 परसेंटाइल  हासिल कर संस्थान की ओर से दूसरा स्थान हासिल किया। बता दें कि मयंक चंदेल ने एनआईटी में भी अपनी सीट सुरक्षित की है और अभी वह आईआईटी की तैयारी कर रहा है। इसी तरह संस्थान की पूजा धीमान ने 92.8 परसेंटाइल लेते हुए तीसरा स्थान हासिल किया है। इनमें अतिरिक्त आदर्श शर्मा, शगुन, साहिल चौहान, प्रियांशी जैन, कुमार अभिनंदन, रितिका राणा, सत्यम शर्मा, सृष्टि कटोच, अंजलि, ऋषभ, अनमोल, अक्षित, आंचल, आरती, निनाक्षी ठाकुर, महिमा पुरी, साक्षी, आशुतोष, सुनिधि, शिवम, मोहित चौहान, सौरभ ठाकुर, रोहित, अनीशि शर्मा, कार्तिकय, रचिता, विनय राणा, अमित शर्मा, कपिश व आंचल शर्मा को मिलाकर कुल 33 विद्यार्थियों ने इस परीक्षा में सफलता हासिल की है। प्रबंधन की मानें तो यह आंकड़ा 50 से ऊपर जा सकता है, क्योंकि बहुत सारे बच्चों के रोल नंबर अभी उपलब्ध नहीं हैं। संस्थान के निदेशक डा. नवनीत शर्मा इन सफलताओं का श्रेय अध्यापकगण ई. मुनीष शर्मा, विजय सिंह, सुरंेद्र सिंह, हितेंद्र, ई. आशीष, बिट्टू ठाकुर, विजय कुमार, डा. ऋषभ अत्री,  ज्योति व ई. रोहित, को दिया है। डा. शर्मा ने बताया कि चाणक्य अकादमी में अखिल भारतीय स्तर पर हर सुविधा उपलब्ध है जो बच्चों को करियर संवारने में अहम रोल अदा करती है। उन्होंने बताया कि संस्थान में इस समय रेग्युलर बैच व ड्रापर बैच की कक्षाएं आरंभ हो चुकी हैं। सत्र 2019-20 के लिए प्रवेश शुरू हो गया है, जिसमें विद्यार्थियों को लेवल टेस्ट के आधार पर दाखिला दिया जाता है और मनोवैज्ञानिक विशलेषण के आधार पर बच्चों को गाइडेंस और काउंसिलिंग करके सहायता दी जाती है। संस्थान के निदेशक डा. नवनीत शर्मा ने अभिभावकों एवं बच्चों को शीघ्र अतिशीघ्र प्रवेश प्राप्त करने के लिए आमंत्रित किया है। है।

 

You might also like