चुनावी दंगल में एक-दूसरे को पटकने की तैयारी

धर्मशाला   —हिमाचल में सियासी पारा धीरे-धीरे गरमाने लगा है। भाजपा व कांग्रेस अब लोकसभा चुनावों में हर दिन एक-दूसरे को पटखनी देने के लिए नए-नए मोहरों  की तलाश कर रही है। सह और मात के खेल में कांगड़ा में नामांकन के दौरान जहां भाजपा ने भरमौर के ललित कुमार को गद्दी समुदाय से किशन कपूर का साडू बताकर मंच पर खड़ा कर दिया, वहीं अब भाजपा भी अपने मंच पर कांग्रेस के ओबीसी नेता को लाकर उन्हें पटखनी देने की तैयारी कर रही है।   कांग्रेस पार्टी में वीरभद्र सिंह के आगे कोई टिक नहीं पाता है। यही वजह है वह जहां जाते हैं, वहीं कसी के खिलाफ भी मोर्चा खोल देते हैं। बावजूद इसके पार्टी हाईकमान अब कांग्रेस के तमाम नेताओं को एक मंच पर लाकर एका का संदेश देना चाहती है। बावजूद इसके इनके मतभेद छिपाए नहीं छुपते, मन से टीस निकल ही जाती है।  भाजपा व कांग्रेस प्रत्याशियों के नामांकन भरने के साथ ही कांगड़ा संसदीय क्षेत्र का सियासी ताप भी चढ़ गया है। आरोप प्रत्यारोपों के अलावा जातीयता के कार्ड को भी खूब भुनाने के प्रयास हो रहे हैं। नेता चुनावों से पहले कई तरह के शिगूफे छोड़ रहे हैं। प्रदेश भर में एक पार्टी से दूसरे दल में तोड़ने का सियासी दौर भी खूब चल रहा है। सुरेश चंदेल को कांग्रेस में शामिल कर भाजपा को बड़ा झटका दिया। इसके तुरंत बाद संभलते हुए भाजपा ने अपने बागियों प्रवीण शर्मा और बदलेव ठाकुर को पार्टी में शामिल कर लिया। कांग्रेस ने भरमौर से ललित कुमार को पार्टी में शामिल कर किशन कपूर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इसका जवाब देने के लिए अब भाजपा भी कांगड़ा से कांग्रेस के एक वरिष्ठ ओबीसी नेता को पार्टी में शामिल कर बड़ा झटका देने की तैयारी में हैं। ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है कि आने वाले दिनों में कांगड़ा का सियासी पारा और अधिक चढ़ने वाला है।

कांगड़ा में नामांकन भरते चढ़ गया सियासी पारा

भाजपा व कांग्रेस प्रत्याशियों के नामांकन भरने के साथ ही कांगड़ा संसदीय क्षेत्र का सियासी ताप भी चढ़ गया है। आरोप प्रत्यारोपों के अलावा जातीयता के कार्ड को भी खूब भुनाने के प्रयास हो रहे हैं। नेता चुनावों से पहले कई तरह के शिगूफे छोड़ रहे हैं। प्रदेश भर में एक पार्टी से दूसरे दल में तोड़ने का सियासी दौर भी खूब चल रहा है। सुरेश चंदेल को कांग्रेस में शामिल कर भाजपा को बड़ा झटका दिया। इसके तुरंत बाद संभलते हुए भाजपा ने अपने बागियों प्रवीण शर्मा और बदलेव ठाकुर को पार्टी में शामिल कर लिया।

You might also like