चुनावों के बाद इधर-उधर होंगे अफसर

उपायुक्तों के तबादलों के साथ प्रशासनिक सचिवों के विभागों में भी होगा फेरबदल

शिमला —चुनावों के तुरंत बाद हिमाचल प्रदेश में बड़े स्तर पर प्रशासनिक फेरबदल होगा। कांगड़ा सहित कुछ जिलों के उपायुक्तों पर तबादलों की गाज गिरेगी। इसके अलावा अधिकतर प्रशासनिक सचिवों के विभागों में फेरबदल किया जाएगा। जयराम सरकार ने अफसरशाही को टॉप-टू बॉटम फेंटने का पूरा मन बना लिया है। इसके लिए प्रशासनिक अफसरों के डेढ़ साल के कार्यकाल और उनकी कार्यप्रणाली को आधार बनाया गया है। इस माह अतिरिक्त मुख्य सचिव मनीषा नंदा और आईएएस अफसर संजीव पठानिया सेवानिवृत्त हो रहे हैं। मनीषा नंदा के दो महत्त्वपूर्ण राजस्व और लोक निर्माण विभागों का जिम्मा भी नए अधिकारी को मिलेगा। मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डा. श्रीकांत बाल्दी का चयन प्रदेश प्रशासनिक ट्रिब्यूनल के सदस्य के लिए हुआ है। हालांकि प्रशासनिक ट्रिब्यूनल के वजूद पर ही अभी स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है। इतना तय है कि चयन के बावजूद डा. श्रीकांत बाल्दी सितंबर-अक्तूबर में प्रस्तावित इन्वेस्टर्स मीट तक सीएम ऑफिस में रहेंगे। राज्य सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव अनिल खाची के केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर दिल्ली जाने की चर्चा है। इसके चलते राज्य सरकार के पास वरिष्ठ अधिकारियों का टोटा पड़ जाएगा। इस स्थिति में राज्य सरकार की नजरें पहले से ही केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर चल रहे अफसरों की वापसी पर टिकी हैं। इस साल 15 आईएएस अफसरों की रिटायरमेंट है। इस कारण अधिकतर विभागों में निदेशक पद पर एचएएस अधिकारियों की तैनाती की गई है। हालांकि प्रशासनिक फेरबदल इस माह के अंत में होना तय है। इसके लिए प्रदेश सरकार ने खाका भी तैयार कर लिया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रशासनिक सचिवों को महत्त्वपूर्ण विभाग देने के लिए उनके डेढ़ साल की परफारमेंस को पैरामीटर बनाया है। इसके अलावा प्रदेश भर में सभी उपायुक्तों का रिपोर्ट कार्ड भी तैयार किया गया है। चुनावी बेला में कांग्रेस की खातिरदारी को लेकर चर्चा में आए डीसी कांगड़ा संदीप कुमार की चुनावों के तुरंत बाद विदाई हो सकती है। इसके अलावा दो अन्य जिलों के उपायुक्तों को बदलने की संभावना है।

सभी का होगा तबादला

केंद्रीय चुनाव आयोग के निर्देशों पर हटाए गए दूसरे प्रशासनिक अफसरों एडीएम तथा एसडीएम के भी तबादला आदेश जारी हो सकते हैं। जिला राजस्व अधिकारियों, तहसीलदारों, नायब तहसीलदारों तथा विकास खंड अधिकारियों के भी बड़े पैमाने पर तबादले होंगे।

 

You might also like