चुनाव आयोग के पास पहुंची 81 शिकायतें

ऊना –लोकसभा चुनावों के मद्देनजर चुनाव आयोग के पास शिकायतें पहुंचने का सिलसिला जारी है। अब तक निर्वाचन विभाग ऊना के पास आदर्श आचार संहिता के उल्लघंन की 81 शिकायतें पहुंची हैं। इनमें से सी-विजिल ऐप के माध्यम से 32 शिकायतें प्राप्त हुई थी, जिनमें से 18 सही पाई गईं। जबकि 14 शिकायतें तथ्यों से परे पाई गई। सही पाई गई 18 शिकायतों का निपटारा भी निर्वाचन आयोग द्वारा कर दिया गया है। इसके अलावा 48 शिकायतें और प्राप्त हुई हैं। इनमें से 47 का निपटारा कर दिया गया है। एक शिकायत पर कार्रवाई की जा रही है और जल्द ही इसे भी निपटा दिया जाएगा। जानकारी के अनुसार सी-विजिल के माध्यम से चिंतपूर्णी विधानसभा क्षेत्र से कुल 11 शिकायतें प्राप्त हुई थी। इनमें से दो तथ्यहीन पाई गई। बाकि नौ शिकायतों को औसतन 73 मिनट के भीतर निपटा दिया गया। हरोली विधानसभा क्षेत्र से कुल पांच शिकायतें प्राप्त हुईं। इनमें से चार सही नहीं पाई गईं और सिर्फ एक शिकायत ही ठीक थी। इस पर 78 मिनट के भीतर कार्रवाई की गई। सी-विजिल के माध्यम से ऊना विधानसभा क्षेत्र में छह शिकायतें मिली। जांच करने पर चार शिकायतें सही पाई गई। इन पर औसतन 47 मिनट के भीतर कार्रवाई हुई। कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र से पांच शिकायतें मिलीं। सभी ठीक पाई गई। जिन्हें औसतन 78 मिनट के भीतर निपटा दिया गया।

90 मिनट में हो जाएगा शिकायत का निपटारा

उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति ने कहा कि निर्वाचन आयोग ने सी-विजिल ऐप के माध्यम से प्राप्त शिकायतों का निपटारा 90 मिनट के भीतर करना अनिवार्य बनाया है। इस ऐप के माध्यम से कोई भी व्यक्ति फोटो या वीडियो अपलोड करके अपनी शिकायत भेज सकता है। शिकायत प्राप्त होने के बाद जांच तुरंत शुरू हो जाती है। शिकायत दर्ज होने के बाद इसकी सूचना जिला नियंत्रण कक्ष को भेजी जाती है। जीपीएस सिस्टम की मदद से शिकायत वाली जगह की पहचान की जाती है और इसके तुरंत बाद इसे जांच के लिए फील्ड इकाई को दे दिया जाता है। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता को एक यूनिक आईडी नंबर मिलता है जिससे वह शिकायत पर की गई कार्रवाई के बारे में भी पता कर सकता है।

टोल फ्री नंबर ‘1950’ से ले जानकारी

आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की ज्यादातर शिकायतें पोस्टर, होर्डिंग, बैनर या दीवार लेखन से जुड़ी हुई थी। निर्वाचन आयोग निष्पक्ष व स्वतंत्र चुनाव करवाने के लिए प्रतिबद्ध है। मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग बिना किसी भय या प्रलोभन के करें और 19 मई को अपना वोट जरूर दें। आयोग ने मतदाताओं की मदद के लिए टोल फ्री नंबर 1950 भी जारी किया है। इसके माध्यम से मतदान अथवा मतदाता संबंधी जानकारी हासिल की जा सकती है।

You might also like